बिना RT-PCR रिपोर्ट फ्लाइट से दिल्ली से रायपुर आया यात्री, जांच में निकला कोरोना पॉजिटिव

जो यात्री एयरपोर्ट पर कोरोना पॉजिटिव पाया गया है वो विस्तारा एयरलाइंस की फ्लाइट से दिल्ली से रायपुर पहुंचा था

रायपुर में लैंडिंग के बाद एयरपोर्ट से बाहर निकलते वक्त यात्री की आरटी-पीसीआर रिपोर्ट (RT-PCR Report) मांगी गई तब वो टाल-मटोल करता रहा. लेकिन जब उसे वापस दिल्ली भेजने की बात आयी तब उसने अपनी जांच रिपोर्ट दिखायी जिसमें वो कोरोना पॉजिटिव (Corona Positive) निकला. यात्री को रिपोर्ट दिखाने के बाद अब क्वारंटाइन में भेज दिया गया है

  • Share this:
रायपुर. छत्तीसगढ़ में तेजी से बढ़ते कोरोना संक्रमण (Corona Virus) की वजह से राज्य के सभी जिलों में लॉकडाउन (Lockdown) लगा हुआ है. ऐसे मुश्किल समय में फ्लाइट में यात्रा करने वाले यात्रियों के लिए भी नियम सख्त कर दिये गये हैं. हालांकि कड़े नियमों के बावजूद एयरलाइंस कंपनियों की लापरवाही रोजाना सामने आ रही है. दिल्ली से रायपुर आने वाली विस्तारा एयरलाइंस (Vistara Airlines) की फ्लाइट में बैठा एक यात्री चैकिंग के दौरान कोरोना पॉजिटिव (Corona Positive) पाया गया.

दरअसल छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा यह आदेश जारी किया गया था कि चार मई से सभी यात्रियों की आरटी-पीसीआर (RT-PCR) रिपोर्ट होनी जरूरी है. लेकिन एयरलाइंस कंपनी ने बिना रिपोर्ट जांचे ही यात्री को दिल्ली से रायपुर आने वाली फ्लाइट में बिठा लिया. रायपुर में लैंडिंग के बाद एयरपोर्ट से बाहर निकलते वक्त यात्री की आरटी-पीसीआर रिपोर्ट मांगी गई तब वो टाल-मटोल करता रहा. लेकिन जब उसे वापस दिल्ली भेजने की बात आयी तब उसने अपनी जांच रिपोर्ट दिखायी जिसमें वो कोरोना पॉजिटिव निकला. यात्री को रिपोर्ट दिखाने के बाद अब क्वारंटाइन में भेज दिया गया है. इधर स्वास्थ्य विभाग एयरलाइंस कंपनी के खिलाफ एक्शन लेने की तैयारी में है.

सोमवार को भी हुई थी लापरवाही, 6 यात्रियों को वापस भेजा गया
इससे पहले, चार मई को भी ऐसी ही लापरवाही एयर इंडिया के विमान में देखने को मिली थी. यह फ्लाइट सोमवार की सुबह दिल्ली से रायपुर पहुंची थी लेकिन एयरपोर्ट पर जांच के बाद पता चला कि इसमें सवार छह यात्री बिना आरटी-पीसीआर रिपोर्ट के यहां पहुंचे हैं. मामला सामने आने पर एयरपोर्ट पर अन्य यात्रियों ने हंगामा शुरू कर दिया. वो इस बात से नाराज थे कि अगर उन्हें कोरोना वायरस हुआ तब वो क्या करेंगे.

मामला गंभीर होने पर बाद में एयरपोर्ट पर पुलिस बुलानी पड़ी. लेकिन छह यात्रियों की रिपोर्ट नहीं मिलने की वजह से उन्हें एयरपोर्ट से बाहर निकलने नहीं दिया गया और वापस दिल्ली भेज दिया गया. साथ ही स्वास्थ्य विभाग द्वारा इसकी शिकायत भी माना थाने में दर्ज कराई गयी है. रायपुर एयरपोर्ट के निदेशक राकेश सहाय ने बताया कि सभी एयरलाइंस कंपनी को इस बात की जानकारी पहले ही दे दी गयी है कि आरटी-पीसीआर रिपोर्ट के बिना यात्रियों को फ्लाइट में सवार होने की अनुमति नहीं दी जाए.