Raipur News: छत्तीसगढ़ में तीन इनामी समेत चार नक्सलियों ने किया सरेंडर

बताया जा रहा है कि इस मुठभेड़ में कई नक्सली मारे गए हैं. (सांकेतिक फोटो)

बताया जा रहा है कि इस मुठभेड़ में कई नक्सली मारे गए हैं. (सांकेतिक फोटो)

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि हेमबती (Hambati) के सिर पर पांच लाख रुपये तथा मंगू और मासे पोडियामी के सिर पर एक- एक लाख रुपये का इनाम है.

  • Share this:
रायपुर. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के नक्सल प्रभावित नारायणपुर जिले (Narayanpur District) में तीन महिला नक्सली समेत चार नक्सलियों ने सुरक्षा बलों के सामने आत्मसमर्पण कर दिया. नारायणपुर जिले के पुलिस अधिकारियों ने शुक्रवार को बताया कि जिले में माड़ डिविजन के अंतर्गत नक्सलियों के स्कूल की शिक्षिका हेमबती सलाम (Hambati salaam) उर्फ मनीषा (27 वर्ष), मनीषा का पति एवं कसनसुर एलओएस सदस्य मंगू मोड़ियामी उर्फ मंगेश उर्फ विश्वनाथ (24 वर्ष), इन्द्रावती एलओएस सदस्य मासे पोडियामी उर्फ सुमित्रा (18 वर्ष) और चेतना नाट्य मंडली की सदस्य मोटी उसेंडी उर्फ लक्ष्मी (19 वर्ष) ने पुलिस के सामने आत्मसमर्पण किया.

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि हेमबती के सिर पर पांच लाख रुपये तथा मंगू और मासे पोडियामी के सिर पर एक- एक लाख रुपये का इनाम है. उन्होंने बताया कि हेमबती सलाम वर्ष 2005 में नक्सली संगठन में शामिल हुई थी. उन्होंने बताया कि शुरूआत में वह माड़ डिवीजन टेलरिंग टीम की सदस्य थी तथा बाद में वह नक्सलियों के स्कूल में शिक्षिका बन गई थी. पुलिस अधिकारियों ने बताया कि नक्सली मंगू मोड़ियामी वर्ष 2017 में नक्सली संगठन में शामिल हुआ था. उन्होंने बताया कि वर्ष 2019 से वह कसनसुर एलओएस सदस्य था और उसने वर्ष 2020 में मनीषा से शादी की थी.उन्होंने बताया कि नक्सली मासे पोडियाम वर्ष 2018 में नक्सली संगठन में शामिल हुई तथा वर्ष 2019 से इन्द्रावती एलओएस सदस्य थी.

Youtube Video


कई नक्सली घटनाओं में शामिल होने के आरोप हैं
पुलिस अधिकारियों ने बताया कि नक्सली मोटी उसेंडी वर्ष 2018 में नक्सली संगठन में शामिल हुई थी. वह नाच गाना के माध्यम से नक्सली संगठन का प्रचार-प्रसार करती थी. अधिकारियों ने बताया कि इसके साथ ही वह गांव में नक्सलियों के लिए भोजन की व्यवस्था करने तथा ग्रामीणों को एकत्र करने का कार्य करती थी. उन्होंने बताया कि नक्सलियों ने माओवादियों की खोखली विचारधारा से त्रस्त होकर आत्मसमर्पण करने का फैसला किया है. पुलिस अधिकारियों ने बताया कि आत्मसमर्पण करने वाले नक्सलियों के खिलाफ कई नक्सली घटनाओं में शामिल होने के आरोप हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज