हेल्थ स्कीम पर चर्चा में पहुंचे राहुल गांधी बोले- मेरे पास सब सवालों के जवाब नहीं

एनजीओ मायाराम सुरजन फाउंडेशन की ओर से छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में स्‍वास्‍थ्‍य को लेकर आयोजित सेमिनार में कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने विशेषज्ञों से सवाल-जवाब किए.

Mamta Lanjewar | News18 Chhattisgarh
Updated: March 15, 2019, 1:16 PM IST
हेल्थ स्कीम पर चर्चा में पहुंचे राहुल गांधी बोले- मेरे पास सब सवालों के जवाब नहीं
सेमिनार में चर्चा करते कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी.
Mamta Lanjewar | News18 Chhattisgarh
Updated: March 15, 2019, 1:16 PM IST
कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गांधी शुक्रवार को छत्तीसगढ़ प्रवास पर पहुंचे. लोकसभा चुनाव के लिए तारीखों के ऐलान के बाद पहली बार राहुल गांधी रायपुर पहुंचे. राजधानी रायपुर के एक निजी होटल में यूनिवर्सल हेल्थ स्कीम को लेकर आयोजित एक सेमिनार में कांग्रेस अध्यक्ष ने हिस्सा लिया. यहां उन्होंने स्वास्थ्य सेवाओं से जुड़े विशेषज्ञों से सवाल जवाब किए. इस दौरान मिले सुझावों पर अमल करने की बात भी कही. राहुल गांधी ने कहा कि जिन राज्यों में कांग्रेस की सरकार है, वहां स्वास्थ्य से जुड़ी लाभकारी योजनाओं को लागू करने पर विचार किया जाएगा. कांग्रेस यूनिवर्सल हेल्थ स्कीम को लागू करने की दिशा में काम कर रही है. स्‍वास्‍थ्‍य विशेषज्ञों से चर्चा के दौरान राहुल ने कहा ि‍कि उनके पास सब सवालों के जवाब नहीं हैं।

एनजीओ मायाराम सुरजन फाउंडेशन की ओर से आयोजित सेमिनार में कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने विषय विशेषज्ञों से सवाल जवाब भी किए. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि स्वास्थ्य के लिए पूरा का पूरा नेटवर्क बनाना पड़ेगा. इस दिशा में सभी को मिलकर काम करने की जरूरत है. आपके सुझावों के लिए कांग्रेस का दरवाजा हमेशा ही खुला है.

रायपुर एयरपोर्ट पर राहुल गांधी की अगुवाई करने पहुंचे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल.

निजीकरण का विरोध:- विषय विशेषज्ञों से चर्चा में राहुल गांधी ने कहा- 'मेरे पास सब सवालों के जवाब नहीं. मैं आपसे सुनकर समझकर काम करना चाहता हूं. आप लोग इस फील्ड से हैं. आप इस बारे में बेहतर जानते हैं. हां यदि आप राजनीति के बारे में पूछेंगे तो मुझे लगता है कि वो मैं बेहतर जानता हूं. मेरे पास परिकल्पना है. मैं स्वास्थ्य में निजीकरण के विरोध में हूं.'



आयुष्मान भारत योजना का विरोध:- कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि आयुष्मान भारत योजना का मैं आलोचक हूं. इस योजना के तहत इंश्योरेंस दे रहे हैं, लेकिन अस्पतालों में बुनियादी सुविधाएं नहीं हैं. अच्छे अस्पताल नहीं रहेंगे तो इंश्योरेंस का क्या लाभ मिलेगा. बेहतर स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराने पर जोर होना चाहिए.

ये भी पढ़ें: राहुल गांधी के रायपुर कार्यक्रम पर भाजपा की आपत्ति, चुनाव आयोग से की शिकायत
Loading...

आदिवासी:- कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने रायपुर में कहा कि मैं अपने नेताओं से कहता हूं की वो ज्यादा से ज्यादा जनता के प्रति संवेदनशील बनें. आदिवासियों के प्रति ज्यादा संवेदनशील बनें.

रायपुर एयरपोर्ट पर राहुल गांधी का स्वागत मंत्री टीएस सिंहदेव ने किया.
मुफ्त स्वास्थ्य सुविधा:- राहुल गांधी की मौजूदगी में स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने कहा कि 75 से 85 प्रतिशत लोगों को प्राथमिक स्वास्थ्य की जरूरत है. 10 से 12 प्रतिशत लोगों को सेकेण्डरी हेल्थ फेसिलिटी की जरूरत है. बाकी के लिए इंश्योरेंस पॉलिसी होती है. यही वजह है कि यूनिवर्सल हेल्थ केयर के जरिये सभी को मुफ्त स्वास्थ्य सुविधा दी जा सकती है. मंत्री सिंहदेव ने कहा कि पब्लिक का पैसा बीमा कंपनियों को नहीं जाने देंगे. 1100 रुपये प्रति व्यक्ति बीमा कंपनियों को छत्तीसगढ़ से जाता था.

प्रोजेक्ट लॉंच:- छत्तीसगढ़ कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया ने कहा कि पूरी दुनिया में अपने अपने स्तर पर यूनिवर्सल हेल्थ केयर को आगे बढ़ाया है. देश में 1947 में 47000 डॉक्टर थे अभी 47 लाख डॉक्टर हैं. हालांकि अभी भी चिंता की बात है. 61 प्रतिशत देश की आजादी गंभीर बीमारी में कर्ज में डूब जाती है. ये कन्वेंशन बहुत सामयिक हैत्र क्योंकि हम इस प्रोजेक्ट को लॉंच कर रहे हैं.

छत्तीसगढ़ की ताजा हर अपडेट्स के लिए देखें-LIVE TV.




Loading...

और भी देखें

पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...