रायपुर: बापू की कुटिया में ज़ुंबा और किटी पार्टी, विरोध के साथ राजनीति भी शुरू
Raipur News in Hindi

रायपुर: बापू की कुटिया में ज़ुंबा और किटी पार्टी, विरोध के साथ राजनीति भी शुरू
रायपुर स्मार्ट सिटी कंपनी बापू की कुटिया के मेंटेनेंस को अब निजी हाथों में सौंपने जा रही है.

रायपुर (Raipur) में सीनियर सिटीजन्स के लिये बनायी गयी बापू की कुटिया में अब ज़ुम्बा डांस (Zumba Dance), योगा (Yoga) और किटी पार्टी भी होगी.

  • Share this:
रायपुर. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) की राजधानी रायपुर (Raipur) के फाफाडीह में रहने वाले 74 साल के केशव परमार रोजाना रायपुर कलेक्ट्रेट गार्डन में बनी बापू की कुटिया में समय बिताने आते हैं. यहां योग और एक्सरसाइज़ करते हैं और सुबह अखबार पढ़ने के लिए भी यही जगह उनके लिए सुविधाजनक होती है, लेकिन मेंटेनेंसे के अभाव में अब बापू की कुटिया (Hut) का दरवाजा बंद कर दिया गया है. क्योंकि अब यहां जुंबा, डांस, किटी पार्टी समेत अन्य आयोजन होंगे.

रायपुर (Raipur) में सीनियर सिटीजन्स के लिये बनायी गयी बापू की कुटिया में अब ज़ुम्बा डांस (Zumba Dance), योगा (Yoga) और किटी पार्टी भी होगी. क्योंकि रायपुर स्मार्ट सिटी कंपनी इसके मेंटेनेंस का जिम्मा अब निजी हाथों में सौंपने जा रही है, जिसके बाद यहां बुजुर्गों के लिए केवल सुबह और शाम दो घंटे का ही वक्त रहेगा बाकी समय यहां योगा, आर्ट, डांस, जुंबा, किटी और चिल्ड्रेन पार्टी चलेगी. जिसके एवज में संचालक आयोजनकर्ता से इसकी फीस लेकर कुटिया का संचालन करेंगे.

Chhattisgarh News
रायपुर के बापू की कुटिया में पहुंचे केशव परमार.




कुटिया को होगा नुकसान



केशव परमार के अलावा यहां आने वाले एएल वाधवानी और विजय गोयल का कहना है कि सीनियर सिटीजन्स को ध्यान में रखकर स्मार्ट सिटी में एक ही जगह बनायी गयी थी, उसमें भी अब अन्य वर्गों का दखल होगा. इनका कहना है कि पहले ही स्मार्ट सिटी इसका सही मैनेजमेंट नहीं कर पा रही है और यहां किटी पार्टी जैसे आयोजनों से बापू की कुटिया को नुकसान भी पहुंचेगा.

राजनीति शुरू
बापू की कुटिया को निजी हाथों में सौंपे जाने और यहां किटी और चिल्ड्रेन पार्टी जैसी गतिविधियों के लिए इसे दिये जाने के फैसले को लेकर राजनीति भी शुरू हो गयी है. स्मार्ट सिटी के इस फैसले का विरोध करते हुए बीजेपी पार्षद मृत्युंजय दुबे ने कहा कि महात्मा गांधी के नाम से बापू की कुटिया बनायी गयी है, जिसे ठेके में देकर बापू का अपमान किया जा रहा है, जहां बुजुर्गों को केवल दो घंटे का ही समय मिलेगा बाकी समय ठेकेदार के अधीन रहेगा. इस मामले में स्मार्ट सिटी के एमडी सौरभ कुमार का कहना है कि  बापू की कुटिया के मेंटेनेंस के लिए इसे संस्था को ठेके पर दिया जा रहा है. वहीं महापौर एजाए ढेबर का कहना है कि यहां कोई भी ऐसा कार्यक्रम नहीं होने देंगे जिससे बापू की अवहेलना हो.

ये भी पढ़ें:
धान पर घमासान: पुलिस ने लाठीचार्ज कर किसानों को दिया 'जख्म', गृह मंत्री ताम्रध्वज ने छिड़का 'नमक'

इस सरकारी स्कूल में KBC की तर्ज पर रोज क्विज कांटेस्ट, ताकि विषय याद हो और Exam का स्ट्रेस भी न लें बच्चे 

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading