लाइव टीवी

गरियाबंद से निकली किसानों की रैली पहुंची रायपुर, धान खरीदी को लेकर करेंगे राज्यपाल से मुलाकात

Raghwendra Sahu | News18 Chhattisgarh
Updated: November 5, 2019, 12:05 PM IST
गरियाबंद से निकली किसानों की रैली पहुंची रायपुर, धान खरीदी को लेकर करेंगे राज्यपाल से मुलाकात
रबी फसल धान के भुगतान, 15 नवंबर से समर्थन मूल्य पर खरीदी की मांग को लेकर कर रहे किसान पैदल मार्च के लिए निकले हैं.

किसान गवर्नर से अपनी मांगों को पूरा करने की गुहार लगाएंगे. बता दें कि सोमवार को राजिम मंडी से किसानों की रैली निकली थी. रास्ते में पड़ने वाले गांवों के किसानों ने पदयात्रियों का तिलक लगाकर स्वागत भी किया. अखिल भारतीय क्रांतिकारी किसान सभा भी किसानों का समर्थन कर रही है.

  • Share this:
रायपुर. धान खरीदी (Paddy Purchase) को लेकर छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में सियासत गरमा गई है. कांग्रेस (Congress) जहां केंद्र सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करने की तैयारी में है, तो वहीं किसान भी राज्य सरकार के खिलाफ एकजुट हो गए हैं. मालूम हो कि गरियाबंद (Gariyabandh) जिले से निकली किसानों की रैली (Farmer Rally) मंगलवरा सुबह राजधानी रायपुर (Raipur) पहुंची. किसान रबी फसल धान के भुगतान और 15 नवंबर से समर्थन मूल्य पर धान खरीदी शुरू करने की कर रहे मांग हैं. रायपुर पहुंचे किसानों का प्रतिनिधि मंडल राज्यपाल अनुसुइया उइके (Governor Anusuiya Uikey ) से मुलाकात भी करेगा. किसान गवर्नर से अपनी मांगों को पूरा करने की गुहार लगाएंगे. बता दें कि सोमवार को राजिम मंडी से किसानों की रैली निकली थी. रास्ते में पड़ने वाले गांवों के किसानों ने पदयात्रियों का तिलक लगाकर स्वागत भी किया. अखिल भारतीय क्रांतिकारी किसान सभा भी किसानों का समर्थन कर रही है.



चार महीने से भटक रहे किसान

बता दें कि तकरीबन चार महीने से भुगतान की मांग को लेकर राजिम, कुरूद और आस-पास के इलाके के किसान भटक रहे हैं. रबी फसल धान के भुगतान, 15 नवंबर से समर्थन मूल्य पर खरीदी की मांग को लेकर कर रहे किसान पैदल मार्च के लिए निकले. यात्रा पर निकलने के लिए सभी किसान राजिम कृषि मंडी परिसर में एकत्रित हुए. जैसे ही प्रदर्शनकारी किसान पदयात्रा के लिए निकले लगे, वैसे ही उन्हें पुलिस ने रोक दिया. पुलिस की कार्रवाई से किसान नाराज हो गए और नारेबाजी करने लगे. विवाद बढ़ता देख प्रशासन ने किसानों को पदयात्रा के लिए जाने की अनुमति दे दी. फिर किसान राजिम से रायपुर के लिए निकले.



किसानों की मांग

पदयात्रा में शामिल किसान मंडी में बेचे गए धान का मंडी नीति से ही भुगतान, स्वामी नाथन आयोग की सिफारिशों को लागू करना, 15 नवंबर से धान खरीदी की शुरूआत करना, धान खरीदी की मात्रा 22 से 25 क्वींटल करना, मंडी अधिनियम का पालन करने की मांग कर रहे हैं. इसके साथ ही 10 सूत्रीय मांगों को लेकर किसान पत्रयात्रा कर रहे हैं.
Loading...

 

ये भी पढ़ें: 

केंद्र के खिलाफ कांग्रेस का प्रदर्शन, PM मोदी को लिखे पत्र पर 38 लाख किसानों का कराएंगे हस्ताक्षर  

बीमा कंपनी का रोल होगा खत्म, इस नए फॉर्मूले से सरकार चलाएगी आयुष्मान योजना

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रायपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 5, 2019, 12:01 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...