छत्तीसगढ़ में सतनामी समाज के बड़े नेता और जोगी सरकार में वन मंत्री रहे डीपी धृतलहरे का निधन
Raipur News in Hindi

छत्तीसगढ़ में सतनामी समाज के बड़े नेता और जोगी सरकार में वन मंत्री रहे डीपी धृतलहरे का निधन
पूर्व मंत्री डीपी धृतलहरे का निधन.

छत्तीसगढ़ में अजीत जोगी सरकार में वन मंत्री रहे सतनामी समाज के बड़े नेता डीपी (डेहरू प्रसाद) धृतलहरे का निधन रविवार को हो गया.

  • Share this:
रायपुर. छत्तीसगढ़ में अजीत जोगी सरकार में वन मंत्री रहे सतनामी समाज के बड़े नेता डीपी (डेहरू प्रसाद) धृतलहरे का निधन रविवार को हो गया. बीमारी के कारण उन्हें राजधानी रायपुर के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था. जहां आज उन्होंने अंतिम सांसे लीं. डीपी धृतलहरे निर्दलीय चुनाव लड़ने के बाद भी छत्तीसगढ़ में कांग्रेस के बहुमत में बनी अजीत जोगी सरकार में मंत्री बने थे. हालांकि उन्होंने विधानसभा चुनाव में कांग्रेस से टिकट मांगी, लेकिन टिकट नहीं मिलने पर वे निर्दलीय चुनाव लड़े और जीते भी.

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने पूर्व मंत्री डीपी धृतलहरे के निधन पर शोक व्यक्त किया है. मुख्यमंत्री ने स्वर्गीय डीपी धृतलहरे के शोक संतप्त परिवारजनों के प्रति संवेदना प्रकट करते हुए उनकी आत्मा की शांति के लिए ईश्वर से प्रार्थना की है. सीएम भूपेश ने ट्वीट कर लिखा— मेरे साथ अविभाजित मध्यप्रदेश में विधायक और फिर छत्तीसगढ़ में मंत्री रहे वरिष्ठ नेता डेरहू प्रसाद धृतलहरे जी का जाना बहुत दु:खद है. वे सतनामी समाज के बड़े नेता थे. उनके जाने से छत्तीसगढ़ को अपूरणीय क्षति हुई है.


अस्पताल में पहुंचे मंत्री डहरिया
प्रदेश के नगरीय प्रशासन एवं श्रम मंत्री डाॅ. शिवकुमार डहरिया ने एमएमआई अस्पताल पहुंचकर मुख्यमंत्री की ओर से पूर्व मंत्री धृतलहरे के पार्थिव शरीर पर श्रृद्धासुमन अर्पित किया और शोक संतप्त परिजनों से भेंटकर उन्हें ढांढस बंधाया. साथ ही हर संभव मदद करने की बात भी कही.



ये भी पढ़ें:
छत्तीसगढ़: बस्तर में सुरक्षा बल के जवानों की 'पैनिक फायरिंग' में मारे जा रहे आदिवासी?

COVID-19: सड़कों पर ड्यूटी कर रहीं 7 महीने की गर्भवती पुलिस अफसर, खुद को नहीं मानतीं कोरोना वॉरियर
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज