सिमी आतंकी 'केमिकल अली' ने पुलिस के सामने खोले कई राज, फरार होकर विदेश में ली थी पनाह
Raipur News in Hindi

सिमी आतंकी 'केमिकल अली' ने पुलिस के सामने खोले कई राज, फरार होकर विदेश में ली थी पनाह
पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक, 2013 में बोधगया और पटना धमकों के पीछे सिमी संगठन का ही हाथ था. इसी मामले में सिविल लाइन थाने में मामला दर्ज किया गया था. ब्लास्ट के 17 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया था. उस दौरान अजहरुद्दीन फरार हो गया था.

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक, 2013 में बोधगया और पटना धमकों के पीछे सिमी संगठन का ही हाथ था. इसी मामले में सिविल लाइन थाने में मामला दर्ज किया गया था. ब्लास्ट के 17 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया था. उस दौरान अजहरुद्दीन फरार हो गया था.

  • Share this:
रायपुर.  छत्तीसगढ़ पुलिस (Chhattisgarh Police) के शिकंजे में सिमी का आतंकी (Simi Terriost) अजहरुद्दीन उर्फ कैमिकल अली (Chemical Ali) पूरे 6 साल के बाद आया है. पुलिस की पूछताछ में कैमिकल अली ने जो राज़ पुलिस और आईबी (Intelligence Bureau) को बताए है उससे सभी के होश उड़ गए हैं. कैमिकल अली देश के कई ठिकानों समेत विदेश में अपनी पनाहगाह बनाकर रखा था. बता दें कि बोधगया और पटना बम धमाकों के आतंकियों को पनाह देने के मामले में हैदराबाद (Hyderabad) से गिरफ्तार सिमी के स्लीपर सेल अजहरुद्दीन उर्फ कैमिकल अली से एनआईए की बिलासपुर स्थित कोर्ट ने भी सवाल किए हैं. कोर्ट ने उसके इंडियन मुजाहिदीन के आतंकियों से संपर्क की जानकारी ली है. कोर्ट ने उसे 24 अक्टूबर तक न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेज दिया है. आपको बता दें कि 2013 में गुजरात के तत्कालीन मुख्यमंत्री और वर्तमान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) की सभा के दौरान बम धमाके हुए थे. इसमें इंडियन मुजाहिदीन के आतंकियों की संलिप्तता मिली थी.

इस मामलों में था शामिल

आतंकी अजहरुद्दीन उर्फ अजहर 2013 से फरार बताया जा रहा था, जिसे अब पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक, 2013 में बोधगया और पटना धमकों के पीछे सिमी संगठन का ही हाथ था. इसी मामले में सिविल लाइन थाने में मामला दर्ज किया गया था. ब्लास्ट के 17 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया था. उस दौरान अजहरुद्दीन फरार हो गया था. शुक्रवार को एटीएस और छत्तीसगढ़ पुलिस की टीम ने हैदराबाद एयरपोर्ट से उसे गिरफ्तार कर लिया.



शुक्रवार को एटीएस और छत्तीसगढ़ पुलिस की टीम ने हैदराबाद एयरपोर्ट से उसे गिरफ्तार कर लिया.

अलर्ट पर सुरक्षा एजेंसियां

अगर प्रदेश में सिमी का स्लीपर सेल के खुलासे के बाद खूफिया विभाग भी चौकन्नी हो गई है. इसे लेकर प्रदेश के गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू का कहना है कि अब हम सारी एजेंसियां अलर्ट मोड में आ रही है. इतना ही नहीं गृहमंत्री ने भी कहा है कि अब सीबीआई की तर्ज में प्रदेश की सीआईडी काम करेगी. गृहमंत्री ने प्रदेश की सीआईडी को दुरुस्त करने के लिए कड़े निर्देश डीजीपी को दिए हैं.

ये भी पढ़ें: 

नसबंदी ऑपरेशन के बाद महिला की मौत, निजी अस्पताल के खिलाफ पुलिस में हुई शिकायत 

CRPF कैंप के पास सुरक्षा बल के जवान और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ 

आधी रात होटल में पुलिस की दबिश, संदिग्ध हालत में मिले 6 युवक-युवती 

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज