छत्तीसगढ़: बहुचर्चित नान घोटाले की जांच करेगी SIT, शराबबंदी के लिए बनाई नई कमेटी

छत्तीसगढ़ में बहुचर्चित नागरिक आ​पूर्ति निगम (नान) घोटाले की जांच स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम करेगी. मंगलवार को भूपेश कैबिनेट की बैठक में अनेक अहम निर्णय लिए गए.

Awadhesh Mishra | News18 Chhattisgarh
Updated: January 1, 2019, 5:03 PM IST
छत्तीसगढ़: बहुचर्चित नान घोटाले की जांच करेगी SIT, शराबबंदी के लिए बनाई नई कमेटी
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल.
Awadhesh Mishra | News18 Chhattisgarh
Updated: January 1, 2019, 5:03 PM IST
छत्तीसगढ़ में बहुचर्चित नागरिक आ​पूर्ति निगम (नान) घोटाले की जांच स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम करेगी. मंगलवार को भूपेश कैबिनेट की बैठक में यह निर्णय लिया गया. नान घोटाले में कई आईएएस अधिकारी भी जद में हैं. साल 2014 के अंत में नान घोटाले का खुलासा हुआ था. इस मामले में अधिकारी-कर्मचारी सहित कई हाई प्रोफाइल लोगों का नाम सामने आया था.

बता दें कि विपक्ष में रहते हुए कांग्रेस तत्कालीन भाजपा सरकार पर नान घोटाले को लेकर हमलावार थी. अब सत्ता में आने के बाद कांग्रेस ने मामले में एसआईटी जांच के निर्देश दे दिए हैं. नान घोटाले में प्राप्त डायरी के सभी 107 पन्नों की जांच करने के निर्देश दिए गए हैं. आईजी स्तर के अधिकारी मामले में जांच करेंगे.



मंत्रालय में हुई कैबिनेट की बैठक में तृतीय अनुपूरक बजट पर भी मुहर लगाई गई. साथ ही राज्यपाल के अभिभाषण को भी मंजूरी दी गई है. कृषि विभाग के नाम में कृषक कल्याण शब्द जोड़ा गया है. साथ ही मंत्री परिषद की संख्या 15 फीसदी से बढ़ा कर 20 फीसदी करने का संकल्प लाने का निर्णय भी लिया गया. धान खरीदी का लक्ष्य 75 से बढ़ा कर 85 मैट्रिक टन करने का निर्णय कैबिनेट में पास करने का निर्णय लिया गया. साथ ही प्रदेश में पूर्ण शराबबंदी के लिए नई कमेटी का गठन करने का निर्णय भी लिया गया. इसके साथ ही पूर्व सरकार की इस संबंध में बनी अध्ययन दल की रिपोर्ट को खारिज कर दिया गया है.

ये भी पढ़ें: ज्योतिषियों का नजरिया- साल 2019 में आक्रामक रहेगी भूपेश सरकार

ये भी पढ़ें: नव वर्ष के कार्यक्रम में सीएम भूपेश बघेल ने प्रदेशवासियों को दी शुभकामनाएं
यह भी देखें-  पार्टी आलाकमान ही तय करेगी छत्तीसगढ़ में मुख्यमंत्री: भूपेश बघेल
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...