लाइव टीवी

भूपेश बघेल कैबिनेट में ऑल इज नॉट वेल के हालात, धरातल पर नजर आ रही गुटबाजी!

Awadhesh Mishra | News18 Chhattisgarh
Updated: September 17, 2019, 11:25 AM IST
भूपेश बघेल कैबिनेट में ऑल इज नॉट वेल के हालात, धरातल पर नजर आ रही गुटबाजी!
भूपेश बघेल मं​त्रिमंडल में एक गुट के नेता दूसरे गुट के नेताओं पर आरोप लगा रहे हैं.

भूपेश कैबिनेट (Bhupesh Cabinet) के दो प्रमुख गुट एक-दूसरे को पटखनी देने के लिए हर दांव पेच आजमा रहे हैं. भूपेश बघेल के समर्थक माने जाने वाले बृहस्पत सिंह ने टीएस सिंहदेव गुट के मंत्री प्रेमसाय सिंह टेकाम पर आरोप लगाए हैं.

  • Share this:
रायपुर: छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में भूपेश बघेल (Bhupesh Baghel) मंत्रिमंडल के भीतर ऑल इज नॉट वेल की स्थिति बनी हुई है. एक गुट दूसरे गुट को पटखनी देने के लिए विधायक (MLA) से लेकर संगठन के नेताओं का इस्तेमाल कर रहे हैं, जिससे कांग्रेस (Congress) की गुटबाजी एक बार फिर धरातल पर दिखाई दे रही है. मंत्रिमंडल (Cabinet) के दो प्रमुख गुट एक-दूसरे को पटखनी देने के लिए हर दांव पेच आजमा रहे हैं. इसको लेकर सरकार से लेकर संगठन तक में चर्चाओं का दौर है. हालांकि कांग्रेस के नेता इससे इनकार कर रहे हैं.

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में कांग्रेस (Congress) सरकार में आल इज नॉट वेल की स्थिति बनी हुई है. बात अगर घटनाक्रम की करें तो हाल ही में कांग्रेस विधायक बृहस्पत सिंह ने टीएस सिंहदेव गुट के मंत्री प्रेमसाय सिंह पर खुलेआम भ्रष्टाचार का आरोप लगाया था. वहीं संगठन के एक वरिष्ठ नेता डॉ. राकेश गुप्ता ने स्वास्थ्य विभाग में हुए घोटालों की शिकायत राज्यपाल से यह कहते हुए की कि इस संबध में वे समय-समय पर राज्य सरकार को अवगत करा चुके हैं, मगर कोई कार्रवाई नहीं हुई, जिससे वे बेहद दुखी हैं.

Chhattisgarh Congress
मुख्यमंत्री के शपथ ग्रहण समारोह ने कांग्रेस के तत्कालीन अध्यक्ष राहुल गांधी ने सभी नेताओं का हाथ पकड़कर एकता का संदेश दिया था. फाइल फोटो.


बीजेपी ने कसा तंज

कांग्रेस सरकार में आपसी मतभेद को लेकर हाल ही में हुए घटनाक्रमों से विपक्षीय दल बीजेपी ने तंज कसा है. बीजेपी प्रवक्ता गौरीशंकर श्रीवास का कहना है कि कांग्रेस सरकार की हकीकत सबके सामने आ रही है. जनता के हित को छोड़ नेता खुद के हिम साधने में लगे हैं. इससे उनके बीच आपसी मतभेद भी हो रहे हैं. अभी तो ये शुरुआत भर है, आगे-आगे देखिए होता है क्या.

कांग्रेस का इनकार
कांग्रेस में गुटबाजी कोई नई बात नहीं है. कांग्रेस की गुटबाजी समय-समय पर ना केवल धरातल पर दिखाई दी है. बल्कि संग्राम के रूप में भी देखने को मिला है, लेकिन वरिष्ठ कांग्रेस नेता राजेन्द्र तिवारी का कहना है कि अजीत जोगी के पार्टी से अलग होने के साथ ही कांग्रेस में गुटबाजी समाप्त हो गई है. संगठन के सभी पदाधिकारी और कार्यकर्ता एकसाथ मिलकर काम कर रहे हैं. राजनीतिक जानकार व वरिष्ठ पत्रकार रविकांत कौशिक का कहना है कि ये मामला घातक है. सोनिया गांधी को इस मामले में संज्ञान लेना चाहिए.
Loading...

ये भी पढ़ें: छत्तीसगढ़ में मोबाइल मेडिकल टीमें करेंगी लोगों का इलाज, CM भूपेश बघेल ने दिए निर्देश 

ये भी पढ़ें: 'नक्सलगढ़' में ऐसा स्कूल, जहां भविष्य ही नहीं जान भी खतरे में डालकर पढ़ाई करते हैं बच्चे

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रायपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 17, 2019, 9:35 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...