लाइव टीवी

बीजेपी का आरोप: कचरा कलेक्शन में फेल हुई इस कंपनी को किया गया करोड़ों का भुगतान

Devwrat Bhagat | News18 Chhattisgarh
Updated: November 5, 2019, 5:57 PM IST
बीजेपी का आरोप: कचरा कलेक्शन में फेल हुई इस कंपनी को किया गया करोड़ों का भुगतान
महापौर प्रमोद की दलील है कि कंपनी यहां मुफ्त में काम करने नहीं आई है. अगर भुगतान नहीं किया जाता तो कंपनी काम रोक देती. (File Photo)

विपक्ष ने शिकायत की है कि कंपनी ने राजधानी में घरों से 100 फीसदी कचरा कलेक्शन किया ही नहीं है. बावजूद इसके कंपनी को निगम ने करोड़ों का भुगतान कर दिया. विवाद होने के बाद महापौर ने इस मुद्दे पर अपनी दलील पेश की है.

  • Share this:
रायपुर. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) की राजधानी रायपुर (Raipur) में सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट (Solid waste management) कंपनी घरों से कचरा लेने और उसे नष्ट करने जैसे महत्वपूर्ण काम में नाकाम साबित हुई है. फिर भी नगर निगम (Raipur Nagar Nigam) की ओर से उसे 14 करोड़ रुपए का भुगतान कर दिया गया. राजधानी में 100 प्रतिशत कचरा कलेक्शन नहीं होने के बावजूद किए गए इस भुगतान को लेकर बीजेपी (BJP) पार्षदों ने आपत्ति जतायी है. विपक्ष ने शिकायत की है कि कंपनी ने राजधानी में घरों से 100 फीसदी कचरा कलेक्शन किया ही नहीं है. बावजूद इसके कंपनी को निगम ने करोड़ों का भुगतान कर दिया. विवाद होने के बाद महापौर ने इस मुद्दे पर अपनी दलील पेश की है.

विपक्ष का आरोप

नगर निगम नेता प्रतिपक्ष सुर्यकांत राठौर ने अधिकारियों पर मनमानी का आरोप लगाते हुए कहा कि महापौर और कमिश्नर की मौजूदगी में फैसला लिया गया था कि शत प्रतिशत कचरा कलेक्शन नहीं होने तक कंपनी को भुगतान नहीं किया जाएगा. लेकिन अधिकारियों ने ठेका कंपनी रामकी को 14 करोड़ का भुगतान कर दिया. वहीं महापौर प्रमोद की दलील है कि कंपनी यहां मुफ्त में काम करने नहीं आई है. अगर भुगतान नहीं किया जाता तो कंपनी काम रोक देती.

आयुक्त को नोटिस

वहीं दूसरी ओर काम की धीमी गति और लापरवाही के चलते जगदलपुर नगर निगम आयुक्त अरविंद कुमार एक्का विभागीय मंत्री शिव डहरिया के निशाने पर आ गए. सर्किट हाउस में हुई समीक्षा बैठक के दौरान कार्य प्रगति में कमी पाए जाने की वजह से जगदलपुर नगर निगम आयुक्त अरविंद कुमार एक्का शो-कॉज नोटिस दिया गया है. वहीं रायगढ़ नगर निगम के आयुक्त राजेन्द्र गुप्ता को भी कार्य में प्रगति लाने की चेतावनी दी गई है. प्रदेश के नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. शिव डहरिया ने विभागीय समीक्षा बैठक के दौरान पौनी पसारी, शहरी गोठान, डोर-टू-डोर कचरा कलेक्शन, राजस्व वसूली और सब के लिए आवास योजना की स्थिति की जानकारी ली और अधिकारियों को कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिए.

ये भी पढ़ें: 

संगठन चुनाव के बीच बीजेपी में मचा घमासान, बड़े नेताओं की खुलेआम शिकायत कर रहे कार्यकर्ता
Loading...

सुरक्षा बल के साथ मुठभेड़ में दो इनामी नक्सली ढेर, हथियार भी बरामद 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रायपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 5, 2019, 5:48 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...