होम /न्यूज /छत्तीसगढ़ /गिरफ्तारी से बचने निलंबित डीजी मुकेश गुप्ता का नया ''पैतरा'', लेटर में EOW को लिखी ये बात

गिरफ्तारी से बचने निलंबित डीजी मुकेश गुप्ता का नया ''पैतरा'', लेटर में EOW को लिखी ये बात

EOW के अफसरों को संबोधित करते हुए मुकेश गुप्ता ने ये खत लिखा है.

EOW के अफसरों को संबोधित करते हुए मुकेश गुप्ता ने ये खत लिखा है.

इस खत के मुताबिक अब फोन टेपिंग मामले में फंसे मुकेश गुप्ता अब बयान देने नहीं आएंगे.

    छत्तीसगढ़ के बहुचर्चित घोटालों में शामिल नान घोटाले मामले में निलंबित डीजी मुकेश गुप्ता ने ईईओडब्लू (Economic Offences Wing) को एक खत लिखा है. इस खत के मुताबिक अब फोन टेपिंग मामले में फंसे मुकेश गुप्ता अब बयान देने नहीं आएंगे. उन्होंने ईओडब्लू को एक चिट्ठी लिखी है जिसमे इस बात की जानकारी उन्होने दी है. अपने इस खत में उन्होंने EOW के अफसरों को संबोधित करते हुए लिखा कि अब आप लोगों को जो लिखना है लिख दें. बयान देने अब मैं नहीं आऊंगा. ऐसे कयास लगाए जा रहे है कि मुकेश गुप्ता को गिरफ्तारी का डर सता रहा है. इस वजह से उन्होने ये पत्र लिखा है. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक मुकेश गुप्ता के खिलाफ दुर्ग पुलिस एक मामले में केस दर्ज किया है जिसमे उनकी गिरफ्तारी भी हो सकती है.

     

    क्या है पूरा मामला

    छत्तीसगढ़ में सत्ता परिवर्तन के बाद नान घोटाले पर जांच के आदेश दिए गए. तब ये खुलासा हुआ था कि छापे के पहले नान के अफसरों और कर्मचारियों का फोन टेप हो रहा था. इसके पुख्ता सबूत मिलने के बाद ईओडब्ल्यू ने तत्कालीन डीजी मुकेश गुप्ता, एसपी रजनेश सिंह के खिलाफ केस दर्ज किया. इस मामले में ईओडब्ल्यू के ही डीएसपी आरके दुबे ने डीजी और एसपी के खिलाफ बयान दिया था कि उनके दबाव में उन्होंने अफसरों के फोन अवैध रूप से टेप करवाने का आदेश जारी किया. हालांकि बाद में दुबे का बयान विवादों में पड़ गया.

    News18 Hindi
    सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक मुकेश गुप्ता के खिलाफ दुर्ग पुलिस एक मामले में केस दर्ज किया है जिसमे उनकी गिरफ्तारी भी हो सकती है.


    बयान देने के बाद आरके दुबे ने हाईकोर्ट में हलफनामा दे दिया कि उन पर दबाव डालकर बयान लिखवाया गया था. कुछ दिनों बाद उन्होंने फिर हाईकोर्ट में नया हलफनामा देकर अपने पिछले शपथपत्र को गलत ठहराया. उन्होंने आरोप लगाया कि मुकेश गुप्ता और रजनेश सिंह के कहने पर ही अवैध तरीके से अफसरों का फोन टेप किया गया. इसी मामले में मुकेश गुप्ता को नोटिस जारी कर पूछताछ के लिए बुलाया गया था.

    ये भी पढ़ें: 

    बच्ची की हत्या कर आरोपी ने मां से कहा- तुम्हारी बेटी को बैकुंठ लोक भेज दिया  

    आधी रात ऐसा क्या हुआ जिससे खत्म हो गया एक सिपाही का पूरा परिवार 

     

     

    Tags: Banking scam, Chhattisgarh news, Online fraud, Raipur news

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें