लाइव टीवी

CM बघेल की डिप्टी सेक्रेटरी के घर का दरवाजा अंदर से बंद, पार्किंग में ही बिस्तर लगाकर सो गए IT अधिकारी
Raipur News in Hindi

News18India
Updated: February 29, 2020, 8:16 AM IST
CM बघेल की डिप्टी सेक्रेटरी के घर का दरवाजा अंदर से बंद, पार्किंग में ही बिस्तर लगाकर सो गए IT अधिकारी
घर के बाहर सोते आयकर विभाग के अधिकारी

राज्यपाल को ज्ञापन सौंपने के बाद मुख्यमंत्री बघेल (Chief Minister Baghel) ने संवाददाताओं से बातचीत के दौरान कहा कि राज्य सरकार को अस्थिर करने की कोशिश हो रही है, क्योंकि हमारे पास तीन चौथाई बहुमत है और लगातार (चुनावों में) हमें सफलता मिल रही है.

  • News18India
  • Last Updated: February 29, 2020, 8:16 AM IST
  • Share this:
रायपुर. छत्तीसगढ़ में आयकर विभाग की 'मैराथन' रेड दूसरे दिन भी जारी है. जांच का दायरा बढ़ाते हुए आईटी की टीम (IT Raid) ने शुक्रवार को मुख्यमंत्री सचिवालय की उपसचिव के घर पर छापा मारा है. उपसचिव सौम्या चौरसिया (Soumya Chaurasia) के निवास पर आईटी की टीम ने दबिश दी. चौरसिया के सूर्या रेसीडेंसी निवास पर तकरीबन एक दर्जन से अधिक अधिकारियों की टीम कार्रवाई कर रही है. जानकारी के मुताबिक, घर का दरवाजा अंदर से बंद है. परिवार के सदस्यों के अंदर होने की सूचना मिल रही है. ऐसे में आयकर की टीम डिप्टी सेक्रेटरी सौम्य चौरसिया के निवास में बने पार्किंग एरिया में ही बिस्तर लगाकर सो गए.

वहीं, छत्तीसगढ़ में कथित रूप से वरिष्ठ अधिकारियों, कांग्रेस नेताओं और व्यवसायियों के ठिकानों पर आयकर के छापे को लेकर छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इसे बदले की कार्रवाई कहा है और आरोप लगाया है कि केंद्र की भाजपा सरकार राज्य सरकार को अस्थिर करने की कोशिश कर रही है. राज्य के विभिन्न शहरों में गुरूवार से आयकर विभाग के लगातार छापों के बाद आज मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में उनके मंत्रिमंडल और कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं ने राज्यपाल अनुसुईया उइके से मुलाकात कर ज्ञापन सौंपा.

सरकार को अस्थिर करने की कोशिश हो रही है
राज्यपाल को ज्ञापन सौंपने के बाद मुख्यमंत्री बघेल ने संवाददाताओं से बातचीत के दौरान कहा कि राज्य सरकार को अस्थिर करने की कोशिश हो रही है, क्योंकि हमारे पास तीन चौथाई बहुमत है और लगातार (चुनावों में) हमें सफलता मिल रही है.  इस कारण से यह द्वेषवश की गई कार्रवाई है. मुख्यमंत्री ने कहा कि संघीय व्यवस्था में कानून व्यवस्था देखने की जिम्मेदार राज्य सरकार की है. आयकर विभाग को कार्रवाई करने से कभी रोका नहीं गया है. आयकर के पहले भी यहां छापे पड़े हैं, राज्य सरकार ने कभी आपत्ति नहीं की है. इससे पहले संबंधित जिले के पुलिस अधीक्षक को खबर की जाती थी और पुलिस अधीक्षक बल दे देते थे. विभाग कार्रवाई कर लेता था. लेकिन अभी कोई सूचना नहीं दी गई. यह सीधी राजनीतिक बदले की कार्रवाई है.





छापे की कार्रवाई चल रही है
वहीं,  राज्य के कृषि मंत्री रविंद्र चौबे ने कहा है कि कल से जो छापे की कार्रवाई चल रही है यह उनका रूटीन काम हो सकता है, लेकिन छत्तीसगढ़ में दहशत का माहौल बनाने की कोशिश हो रही है. बगैर सूचना छत्तीस घंटे हो गए हैं. न राज्य सरकार को कोई सूचना दी गई है और न ही मुख्य सचिव को सूचना दी गई है. साथ ही पुलिस महानिदेशक को भी सूचना नहीं दी गई है. चौबे ने कहा कि मुख्यमंत्री कार्यालय की महिला उप सचिव के घर पर जहां ताला बंद था वहां भी कार्रवाई की गई है. चौबे ने कहा कि भूपेश मंत्रिमंडल ने राज्यपाल को ज्ञापन देकर आग्रह किया और उन्होने सभी बातों को ध्यान से सुना. राज्यपाल ने कहा है कि वह तत्काल इस संबंध में प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति से चर्चा करेंगी. इस मामले को लेकर अदालत जाने के सवाल पर मंत्री ने कहा कि अभी राज्यपाल को ज्ञापन सौंपा गया है. आने वाले समय में जितने भी वैधानिक विकल्प होंगे हम सारी कार्रवाई करेंगे.

कार्यालय में पदस्थ अधिकारी भी शामिल हैं
राज्यपाल को सौपे ज्ञापन में मुख्यमंत्री और उनके मंत्रिमंडल ने कहा है कि मीडिया की खबरों से जानकारी मिली है कि छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में 27 फरवरी को कई जगह कथित तौर पर आयकर के छापे पड़े हैं. आज कथित आयकर की टीम कुछ और अधिकारियों के शासकीय निवास पर पहुंची. इनमें मुख्यमंत्री कार्यालय में पदस्थ अधिकारी भी शामिल हैं. इसमें लिखा है कि जिस तरह से केन्द्रीय सुरक्षाबलों के साथ ये कार्रवाइयां की जा रही है, वह छत्तीसगढ की कांग्रेस सरकार पर राजनीतिक विद्वेष से प्रेरित सीधे हमले की तरह प्रतीत होती है.

हस्तक्षेप करने का अनुरोध किया है
राज्य सरकार ने राज्यपाल से इस मामले में हस्तक्षेप करने का अनुरोध किया है जिससे लोकतांत्रिक ढांचे की रक्षा हो सके और एक निर्वाचित सरकार संविधान के दायरे में निर्भय होकर काम कर सके. छत्तीसगढ़ में आयकर विभाग की टीम गुरूवार से विभिन्न शहरों में छापे की कार्रवाई कर रही है. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक राज्य में आयकर विभाग रेरा के अध्यक्ष विवेक ढांड, उद्योग विभाग के संयुक्त सचिव अनिल टुटेजा, रायपुर नगर निगम के कांग्रेस के महापौर एजाज ढेबर, मुख्यमंत्री सचिवालय में उप सचिव सौम्या चौरसिया, व्यवसायियों और अन्य लोगों के विभिन्न ठिकानों में छापे की कार्रवाई कर रहा है. इधर सत्ताधारी कांग्रेस पार्टी ने इस मामले को लेकर शनिवार को गांधी मैदान में विरोध करने और आयकर कार्यालय का घेराव करने का फैसला किया है.

(इनपुट - भाषा)

ये भी पढ़ें- 

हिंसा पीड़ितों की मदद के लिए ऑन स्पॉट दिए जाएंगे 25-25 हजार रुपए: केजरीवाल

आजम खान की बहू ने कहा- 'जेल में मच्छर बहुत थे, रात भर वालिद सो न सके'

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रायपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 29, 2020, 4:33 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर