बस्तर में कुपोषण के कलंक को मिटाने भूपेश सरकार शुरू करेगी ये पायलट प्रोजेक्ट

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने रायपुर में हरदिया साहू समाज के एक कार्यक्रम में सरकार के इस महत्वाकांक्षी योजना की घोषणा की.

News18 Chhattisgarh
Updated: June 19, 2019, 12:15 PM IST
बस्तर में कुपोषण के कलंक को मिटाने भूपेश सरकार शुरू करेगी ये पायलट प्रोजेक्ट
सरकार आदिवासियों को पौष्टिक आहार के साथ ही मोबाइल चिकित्सा के माध्यम से हॉट बाजारों में स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराएगी.
News18 Chhattisgarh
Updated: June 19, 2019, 12:15 PM IST
छत्तीसगढ़ की भूपेश सरकार ने वनांचल क्षेत्र के लोगों को विशेष सुविधा मुहैया कराने की तैयारी की है. इसके तहत सरकार आदिवासियों को पौष्टिक आहार के साथ ही मोबाइल चिकित्सा के माध्यम से हाट बाजारों में स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराएगी. सरकार का दावा है कि ये योजना देश में अपने तरह की अनूठी योजना होगी. छत्तीसगढ़ में ये योजना आदिवासी बाहुल्य बस्तर संभाग से की जाएगी. बस्तर में इस योजना पर पायलट प्रोजेक्ट की तरह काम होगा. इस योजना पर एक सप्ताह के भीतर ही काम शुरू करने की तैयारी की जा रही है.

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने रायपुर में हरदिया साहू समाज के एक कार्यक्रम में सरकार के इस महत्वाकांक्षी योजना की घोषणा की. बीते 18 जून को सीएम बघेल रायपुर के महादेव घाट स्थित साहू समाज के कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे थे. मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा है कि बस्तर संभाग में कुपोषण का प्रकोप सर्वाधिक है. हम इस कलंक को मिटाने के लिए प्रतिबद्ध हैं.

कलेक्टर को निर्देश
सीएम भूपेश बघेल ने बताया कि बस्तर संभाग के कलेक्टरों को निर्देश दिए गए है कि आगामी एक वर्ष में इस समस्या को नियंत्रित किया जाए. ग्राम पंचायतों एवं महिला समूहों के माध्यम से स्थानीय लोगों की रूचि अनुरूप उन्हें पौष्टिक भोजन प्रतिदिन उपलब्ध कराया जाए. एक सप्ताह के अंदर कुछ पंचायतों में यह प्रयोग शुरू हो जाएगा. इसके बाद एक महीने में जिला स्तर पर इस योजना का लाभ देने का काम शुरू हो जाएगा.

हॉट बाजार में नजर आएगी मेडिकल यूनिट
मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि बस्तर एवं दंतेवाड़ा जिलों के कलेक्टरों को निर्देशित किया गया है कि वे तत्काल प्रयोग के तौर पर हॉट बाजारों के दिन वहां मेडिकल टीम भेजें. इस टीम में चिकित्सा दल, मोबाइल पैथालॉजी यूनिट, पोर्टेबल एक्स-रे यूनिट रहेगी. साथ सभी आवश्यक दवाएं लेकर टीम जाएगी. यह व्यवस्था एक सप्ताह में शुरू करने की योजना है.

ये भी पढ़ें: छत्तीसगढ़ से मानसूम अभी 5-6 दिन दूर, संविलियन को लेकर सरकार का बड़ा फैसला 
Loading...

ये भी पढ़ें: PHOTOS: नक्सलवाद के खिलाफ सुरक्षा बल के जवानों की एक पहल, देखिए तस्वीरें 

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रायपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 19, 2019, 11:50 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...