Home /News /chhattisgarh /

three police officers will be honoured for excellence in investigation check details mpns

Chhattisgarh News: तीन पुलिस अधिकारी होंगे सम्मानित, शानदार जांच का मिलेगा इनाम

Raipur News: रायपुर की एएसआई दिव्या शर्मा को केंद्रीय गृह मंत्रालय 15 अगस्त पर सम्मानित करेगा.

Raipur News: रायपुर की एएसआई दिव्या शर्मा को केंद्रीय गृह मंत्रालय 15 अगस्त पर सम्मानित करेगा.

Chhattisgarh News: केंद्रीय गृह मंत्रालय छत्तीसगढ़ तीन अधिकारियों एएसपी राजेन्द्र कुमार जायसवाल, इंसपेक्टर दिनेश यादव और एएसआई दिव्या शर्मा को 15 अगस्त को सम्मानित करेगा. तीनों को ‘एक्सीलेंस इन इनवेस्टिगेशन’ सम्मान मिलेगा. दिव्या शर्मा ने एक बच्ची के रेप मामले में जबरदस्त जांच की थी. उन्होंने न केवल रेप के आरोपी बच्ची के सौतेले पिता को सजा दिलवाई, बल्कि बच्ची के ठीक होने तक उसका ख्याल भी रखा.

अधिक पढ़ें ...

रायपुर. छत्तीसगढ़ के जवान हों या फिर पुलिस के अधिकारी-कर्मचारी, यह अपने दायित्वों को न सिर्फ बखूबी निभाते हैं, बल्कि अपने शानदार इन्वेस्टिगेशन का लोहा भी मनवाते हैं. समय-समय पर इन्हें इसका इनाम भी मिलता है. इसी कड़ी में केंद्र सरकार राजधानी रायपुर की सब इंसपेक्टर दिव्या शर्मा सहित तीन अधिकारियों को 15 अगस्त को सम्मानित करेगी. दिव्या शर्मा के साथ-साथ केंद्रीय गृह मंत्रालय एएसपी राजेन्द्र कुमार जायसवाल और इंसपेक्टर दिनेश यादव को भी सम्मानित करेगा. तीनों को जांच की उत्कृष्टता के लिए सम्मानित किया जाएगा. बता दें, एएसपी राजेन्द्र जायसवाल ने टेरर फंडिंग के मामले में शानदार जांच की थी.

बता दें, तेलीबांधा थाने की एएसआई दिव्या शर्मा के पास 5 जून के एक नबालिग के साथ अनाचार  का मामला आया था. आरोपी अर्जून पाल ने अपनी ही सौतेली बेटी के साथ ज्यादती की थी. घटना की जानकारी मिलते ही एएसआई ने मामले में तुरंत जांच की और आरोपी को हिरासत में लिया. हैरानी बात ये थी कि, पीड़िता के परीजन किशोरी की गंभीर स्थिति के बाद भी उसका उपचार कराने से मना कर रहे थे. इसके बाद एएसआई दिव्या शर्मा ने पीड़िता को अपने कब्जे में लिया और उसकी तबीयत ठीक होने तक देखभाल की. 8 जून को ठीक होने के बाद बच्ची को अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया था.

आरोपी को हुआ आजीवन कारावास
इस मामले में बेहतर विवेचना हुई और कोर्ट ने आरोपी को आजीवन कारावास की सजा सुनाई. कोर्ट ने आरोपी के खिलाफ 22 जुलाई 2021 को सजा तय की और 50 हजार रुपे का अर्थदण्ड भी लगाया. गौरतलब है कि केंद्रीय गृह मंत्रालय जांच में उत्कृष्टता के लिए पुलिसकर्मियों को सम्मानित करता है. इसके तहत जो भी अधिकारी किसी अपराध की जांच में उच्च मानक स्थापित करता है, पेशेवर रवैये को अपनाता है, ईमानदारी, कर्तव्यनिष्ठा और काम से असाधारण साहस को दिखाता है तो उसे सम्मानित किया जाता है. यह मेडल उनके करियर में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है. इस सम्मान का उद्देश्य पुलिसकर्मियों को प्रोत्साहित करना है.

Tags: Chhattisgarh news, Raipur news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर