लाइव टीवी

टिकट के लिए ही लड़ते रहेंगे तो कब करेंगे प्रचार, देखिए न्यूज 18 की चुनावी चर्चा
Raipur News in Hindi

निलेश त्रिपाठी | News18Hindi
Updated: November 2, 2018, 1:02 PM IST
टिकट के लिए ही लड़ते रहेंगे तो कब करेंगे प्रचार, देखिए न्यूज 18 की चुनावी चर्चा
सांकेतिक तस्वीर

छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस द्वारा अंतिम सूची जारी होने के बाद कुछ जगहों पर आपसी संग्राम की स्थिति है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 2, 2018, 1:02 PM IST
  • Share this:
छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस द्वारा अंतिम सूची जारी होने के बाद कुछ जगहों पर आपसी संग्राम की स्थिति है. बिलासपुर में अटल श्रीवास्तव और रायपुर में एजाज ढेबर के समर्थकों ने टिकट नहीं मिलने से नाराज होकर हंगामा किया. रायपुर व बिलासपुर कार्यालय में तोड़फोड़ की गई. इसके अलावा गुरुवार देर रात निर्वाचन आयोग की उड़नदस्ता टीम ने कार्रवाई करते हुए 200 पेटी शराब जब्त की.

चुनावी समर में पिछले 24 घंटे की बड़ी घटनाओं पर न्यूज 18 की टीम ने चर्चा की. न्यूज 18 छत्तीसगढ़ के एसोसिएट एडिटर धनवेन्द्र जयसवाल का कहना है कि टिकट वितरण के बाद कांग्रेस में हंगामे का नुकसान कांग्रेस को होगा. क्योंकि यदि अंतिम समय तक दावेदार और समर्थक टिकट के लिए ही लड़ेंगे तो फिर प्रचार कब करेंगे. धनवेन्द्र जयसवाल ने कहा कि टिकट वितरण के बाद भाजपा में भी बगावत हुई थी, लेकिन इस तरह के हिंसक कदम कहीं नहीं उठाए गए.

ये भी पढ़ें: कांग्रेस नेता एजाज ढेबर को टिकट नहीं मिलने से नाराज समर्थकों ने की तोड़फोड़



न्‍यूज 8 छत्तीसगढ़ के सीनियर रिपोर्टर राघवेन्द्र साहू ने कहा कि कांग्रेस कांग्रेस कार्यकर्ताओं की इसी तरह की हरकत से साफ है उनमें एकजुटता नहीं है. इस समस्या को समय रहते दूर नहीं किया गया तो चुनाव में जीत मिलना कांग्रेस के लिए मुश्किल हो सकता है.



बगैर जानकारी सभा कर रहे थे राजेश मूणत
निर्वाचन आयोग की कार्रवाई में न्यूज 18 छत्तीसगढ़ के रिपोर्टर देवव्रत भगत का कहना है कि आयोग की ​टीम राजधानी रायपुर में लगातार कार्रवाई कर रही है. गुरुवार की शाम को रायपुर के डीडी नगर में एक सभा के दौरान भाजपा प्रत्याशी राजेश मूणत को वापस लौटना पड़ा, क्योंकि वे इसकी जानकारी निर्वाचन आयोग को नहीं दिए थे और सभा के दौरान आयोग की टीम वहां पहुंच गई.

ये भी पढ़ें: दंतेवाड़ा हमला: नक्सलियों ने मांगी माफी, कहा-हमें 'मीडिया के होने की नहीं थी जानकारी'

नक्सल चेतावनी
दंतेवाड़ा नक्सली हमले में बीते मंगलवार मारे गए डीडी न्यूज के कैमरापर्सन को लेकर नक्सलियों की ओर से शुक्रवार को एक पत्र जारी किया गया. इसमें बताया गया कि एंबुस सुरक्षा बल के जवानों को निशाना बनाने के लिए लगाया गया था, मीडिया पर्सन के साथ होने की उन्हें जानकारी नहीं थी. मीडियापर्सन की मौत का उन्हें दु:ख है. पत्र में लिखा गया है कि मीडियापर्सन बस्तर में चुनाव कवरेज के लिए पुलिस के साथ न आएं. धनवेन्द्र जयसवाल का कहना है कि नक्सली दु:ख तो जता रहे हैं, लेकिन एक तरह से चेतावनी भी दे रहे हैं कि बस्तर में पत्रकार पुलिस के साथ आएंगे तो निशाना बनेंगे.

रेणु जोगी के चुनाव लड़ने पर क्या हुई चर्चा, देखिए पूरा वीडियो.


ये भी पढ़ें: छत्तीसगढ़ चुनाव: चर्चा का केन्द्र क्यों बनी हुई हैं अजीत जोगी की पत्नी डॉ. रेणु 

ये भी पढ़ें: नक्‍सल हिंसा: बीजापुर में मुठभेड़ में एक नक्सली ढेर, कांकेर में आईईडी ब्लास्ट में दो जवान घायल

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रायपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 2, 2018, 1:02 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading