• Home
  • »
  • News
  • »
  • chhattisgarh
  • »
  • Chhattisgarh: विधायक बृहस्पति सिंह को शोकॉज नोटिस जारी, टीएस सिंहदेव पर लगाए थे गंभीर आरोप

Chhattisgarh: विधायक बृहस्पति सिंह को शोकॉज नोटिस जारी, टीएस सिंहदेव पर लगाए थे गंभीर आरोप

विधायक बृहस्पत सिंह को मंत्री टीएस सिंहदेव से विवाद पर पार्टी की ओर से शोकॉज नोटिस जारी किया गया है.

विधायक बृहस्पत सिंह को मंत्री टीएस सिंहदेव से विवाद पर पार्टी की ओर से शोकॉज नोटिस जारी किया गया है.

Chhattisgarh News: विधायक बृहस्पति सिंह को पार्टी हाईकमान से निर्देश पर नोटिस जारी किया गया है. वृहस्पति ने स्वास्थ मंत्री टीएस सिंहदेव बड़ा आरोप लगाते हुए दावा किया था कि सिंहदेव किसी भी समय उन पर जानलेवा हमला करवा सकते हैं.

  • Share this:
रायपुर. छत्तीसगढ़ की सियासत (Chhattisgarh Politics) में स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव (TS Singhdev) और कांग्रेस विधायक बृहस्पति सिंह (Brihaspati Singh) के बीच जारी विवाद की स्थिति को सुलझाने के लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (Bhupesh Baghel) ने मंगलवार शाम अपने आवास पर बैठक बुलाई. बैठक के बाद बृहस्पत सिंह पर कारवाई का फैसला किया गया. विधायक बृहस्पति सिंह को
पार्टी हाईकमान से निर्देश पर शोकॉज नोटिस जारी किया गया है. उनसे पूरे विवाद पर जवाब मांगा गया है. वृहस्पति ने स्वास्थ मंत्री टीएस सिंहदेव बड़ा आरोप लगाते हुए दावा किया था कि सिंहदेव किसी भी समय उन पर जानलेवा हमला करवा सकते हैं. बृहस्पति के बयान के बाद कांग्रेस के कई नेताओं ने उन्हें पार्टी से निष्काषित करने के लिए कांग्रेस अध्यक्ष  सोनिया गांधी को चिट्ठी भी लिखी है.

इस पूरे मामले पर अपनी सरकार की चुप्पी से टीएस सिंहदेव नाराज हैं. मंगलवार को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से मुलाकात के बाद उन्होंने स्पष्ट किया कि वो विधानसभा में अपने नहीं आने के स्टैंड पर कायम हैं. सिंहदेव ने कहा कि समस्या का समाधान शायद भविष्य के गर्भ में है. मैंने जो बयान दिया है, मैं उस पर कायम हूं. उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी के प्रदेश प्रभारी पी.एल पुनिया से मेरी और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल दोनों की बात हुई है. मेरी सोनिया गांधी से कोई बात नहीं हुई है.

मंगलवार को ही विधानसभा में विधायक बृहस्पति सिंह द्वारा स्वास्थ्य मंत्री टी.एस सिंहदेव पर लगाए आरोपों पर जमकर हंगामा हुआ. सिंहदेव ने इस पर विपक्ष के रवैये और अपनी सरकार की चुप्पी पर सदन से वॉकआउट किया. उन्होंने कहा कि जब तक सरकार जांच का आदेश नहीं देती या बयान जारी नहीं करती, मैं खुद को इस सदन के सत्र का हिस्सा बनने के योग्य नहीं पाता.

राज्य कांग्रेस के दोनों शीर्ष नेताओं टी.एस सिंहदेव और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को आमने-सामने आता देख पार्टी के प्रदेश प्रभारी पी.एल पुनिया ने दखल दिया और टीएस सिंहदेव को फोन किया. इसके कुछ देर बार टी.एस सिंहदेव सदन के अंदर वापस पहुंचे.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज