लाइव टीवी

नगरीय निकाय चुनाव: प्रत्याशी चयन बनी पार्टियों की मुसीबत, दावेदारों की नाराजगी से हो सकता है बवाल

Awadhesh Mishra | News18 Chhattisgarh
Updated: December 4, 2019, 10:53 AM IST
नगरीय निकाय चुनाव: प्रत्याशी चयन बनी पार्टियों की मुसीबत, दावेदारों की नाराजगी से हो सकता है बवाल
कांग्रेस और बीजेपी जल्द बाकी बचे प्रत्याशियों का ऐलान कर सकती है. (File Photo)

माना जा रहा है कि कांग्रेस (Congress) बुधवार को बाकी के नामों की घोषणा कर सकती है, तो वहीं बीजेपी (BJP) भी जल्द लिस्ट जारी कर सकती है.

  • Share this:
रायपुर. छत्तीसगढ़ में होने वाले नगरीय निकाय चुनाव को लेकर गहमागहमी तेज होती जा रही है. सियासत इतनी गर्म हो गई है कि पार्टियां प्रत्याशी तक का चयन नहीं कर पा रही हैं. चाहे बात कांग्रेस की करें या बीजेपी की, दोनों की दलों में प्रत्याशी चयन को लेकर खींचतान मची हुई है. बीजेपी में जहां टिकट की खींचतान के चलते रायपुर के 70 वार्डों में से केवल 51 वार्डों के नामों पर ही पैनल बन पाया हो तो वहीं कांग्रेस में प्रत्याशी चनय पर बवाल होने की आशंका जताई जा रही है. माना जा रहा है कि कांग्रेस बुधवार को बाकी के नामों की घोषणा कर सकती है, तो वहीं बीजेपी भी जल्द लिस्ट जारी कर सकती है.

कांग्रेस में घमासान

नगरीय निकाय चुनाव में प्रत्याशी चयन को लेकर सत्ताधारी दल कांग्रेस में मंगलवार को चुनाव समिति की मैराथन बैठक हुई. करीब 8 घंटे चली मैराथन बैठक में बस्तर संभाग के सभी नामों पर मुहर लगा दी गई तो वहीं सरगुजा संभाग के अधिकांश नामों पर सहमति बन गई. वहीं धमतरी, महासमुंद, बिलासपुर, मुंगेली, रायगढ़, कोरबा, जांजगीर-चाम्पा, भाटापारा-बलौदाबाजार, कोरिया जिलें के भी अधिकांश नामों पर मुहर लगा दी गई. चुनाव समिति के सदस्य रमेश वर्ल्यानी ने बताया कि चुनाव समिति की बैठक बुधवार को भी होगी जिसमें बचे हुए नामों पर मुहर लगा दी जाएगी.

बढ़ाई गई सुरक्षा

कांग्रेस में प्रत्याशी चनय पर बवाल होने की आशंका जताई जा रही है. नाराज दावेदार हंगामा कर सकते हैं.  चुनाव समिति की बैठक को देखते हुए राजीव भवन की सुरक्षा बढ़ा दी गई है. अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक की मॉनीटरिंग में अतिरिक्त बल तैनात कर दिया गया है. सिटी एसपी, टीआई सहित सुरक्षा बलों की संख्या भी बढ़ा दी गई है. मालूम हो कि मंगवार को चुनाव समिति की बैठक के दौरान सीएम भूपेश बघेल और  पीसीसी प्रभारी के मौजूदगी में नारेबाजी की गई थी.

 
Loading...

 

बीजेपी में भी खींचतान

मंगलवार शाम बीजेपी में भी नगरीय निकाय चयन समिति की बैठक देर रात तक चली. इस बीच नगर पालिका तिल्दा नेवरा, आरंग और गोबरा नयापारा, नगर पंचायत अभनपुर, कूरा और खरोरा के पार्षद प्रत्यशियों की सूची जारी कर दी गई. लेकिन राजधानी के वार्डों को लेकर जबरदस्त खींचतान चलती रही. रायपुर जिला समिति की बैठक में सांसद सुनील सोनी, पूर्व मंत्री और विधायक बृजमोहन अग्रवाल, जिला अध्यक्ष राजीव अग्रवाल, संजय श्रीवास्तव और सच्चिदानंद उपासने समेत तमाम सदस्य मौजूद रहे.

बैठक के दौरान जिला अध्यक्ष राजीव अग्रवाल ने भी वार्ड नंबर 32 महर्षि वाल्मिकी वार्ड से टिकट की मांग की, तो वहीं संजय श्रीवास्तव भी काली माता वार्ड से टिकट के लिए अड़े रहे. टिकट की खींचतान के चलते रायपुर के 70 वार्डों में से केवल 51 वार्डों के नामों पर ही पैनल बन पाए. वहीं 18 वार्डों में सिंगल नामों पर सहमति बनी लेकिन दिग्गजों के पार्षद चुनाव की टिकिट के डिमांड के चलते कई वार्डों के नाम तय नहीं हो पाए. तय किए गए नाम संभागीय समिति को सौंप दिए गए हैं. वहीं बाकी नामों को लेकर फिर एक बार बैठक होगी.

ये भी पढ़ें: 

अकाउंटेंट के बाद स्कूल संचालक की भी मिली लाश, हत्या की आशंका

एक ही परिवार के तीन लोगों ने जहर खाकर की खुदकुशी की कोशिश, दो की हालत नाजुक

सेंट्रल जेल में दो गैंग के गुर्गों के बीच खूनी संघर्ष, एक युवक की हालत गंभीर  

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रायपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 4, 2019, 10:53 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...