लाइव टीवी

नगरीय निकाय चुनाव: कांग्रेस के सामने जीत की चुनौती, BJP की साख दांव पर

News18 Chhattisgarh
Updated: December 20, 2019, 11:29 AM IST
नगरीय निकाय चुनाव: कांग्रेस के सामने जीत की चुनौती, BJP की साख दांव पर
अप्रत्यक्ष तौर पर मेयर और अध्यक्ष का चुनाव कराने पर कैबिनेट ने मुहर लगाई थी . (File Photo)

चुनावी शोर थमने के साथ ही आयोग द्वारा चुनाव की तैयारी पूरी की जा चुकी है. सूबे के जिन 151 निकायों में चुनाव होना है उनमें से 10 नगर निगम पर सबकी निगाहें रहेगी, क्योंकि 15 सालों बाद सत्तासीन होने वाली कांग्रेस के लिए नगर निगमों में जीत एक बड़ी चुनौती हौ, तो वहीं राज्य में विपक्षीय दल बीजेपी अधिक से अधिक निकायों में जीत के प्रति आश्वस्त दिखाई दे रही है. 

  • Share this:
रायपुर.  छत्तीसगढ़ में निकाय चुनाव के घोषणा के साथ ही राजनीतिक दलों के लिए चुनौती का पहाड़ खड़ा हो गया. क्योंकि, बीजेपी 15 साल बाद गैरसत्ताधारी दल के रूप में अपनी जमीन तलाश करने निकाय के रण में उतरी है, तो वहीं कांग्रेस पहली बार बतौर सत्ताधारी दल निकाय में जीत के लिए जद्दोजहद कर रही है. बात अगर इन दस नगर निगम के सियासी गुणा-गणित की करें तो 2014 के चुनावी परिणाम ने दस में बीजेपी को चार, कांग्रेस को चार और अन्य के खाते में महापौर के सीट देकर सियासी संतुलन बनाया था. ये बात अगल है कि कोरिया जिले के चिरमिरी नगर निगम से कांग्रेस के बागी डमरू रेड्डी चुनाव लड़ कर जीते थे, अब उनकी घर वापसी हो चुकी है. इस बार राजनीति दलों  के लिए चुनौती काफी बड़ी और अगल है क्योंकि इस बार न केवल नगर निगमों में मतदाताओं की संख्या में बढ़ोत्तरी हुई है बल्कि परिसीन के बाद कई वार्डों के सियासी समीकरण बिगड़ चुके हैं. तो वहीं बची कसर आरक्षण ने पूरी कर दी. आरक्षण की जद में प्रदेशभर के दर्जनों राजनीति के दिग्गज धराशायी हो गए.

 

नगरीय निकाय चुनाव एक नजर में

प्रदेश के 13 में से 10 नगर निगमों में चुनाव.

BJP-04, कांग्रेस-04, अन्य-02 का मौजूदा परिणाम.

परिसीमन, आरक्षण ने बदली सियासी गुणा-गणित.

10 नगर निगम के 542 वार्डों में चुनावी प्रक्रिया जारी.नगर निगमों में बहुमत के आधार पर बनेगा महापौर.

 

एक नजर सूबे के दस नगर निगम के सियासी गुणा-गणित पर.

नगर निगम                  महापौर                      दल

बिलासपुर                   किशोर राय                बीजेपी

कोरबा                       रेणू अग्रवाल                  कांग्रेस

रायगढ़                     मधु बाई                          अन्य

अंबिकापुर                  अजय तिर्की                    कांग्रेस

चिरमिरी                    डमरू रेड्डी                    अन्य (वर्तमान में कांग्रेस)

रायपुर                       प्रमोद दुबे                        कांग्रेस

धमतरी                     अर्चना चौबे                      बीजेपी

दुर्ग                            चंद्रिका चंद्राकर               बीजेपी

राजनांदगांव              मधुसूदन यादव                बीजेपी

जगदलपुर                  जतिन जायसवाल            कांग्रेस

 

 

पार्टियों के सामने बड़ा चैलेंज

नगर निगम के ये मौजूदा हाताल तब के हैं जब राज्य में सत्ताधारी दल बीजेपी हुआ करती थी. मगर साल 2018 के अंत में पंद्रह सालों बाद हुए सत्ता परिवर्तन के साथ ही सियासी जानकार इस उधेड़ गुण में लगे हैं कि आखिरकार बहुमत के आधार पर किस दल का महापौर बनेगा, क्योंकि पहली बार ऐसा देखने को मिल रहा है कि नगर निगमों में मतदाताओं की कुल संख्या बीस लाख के पार पहुंची हो. अब जब मतदाताओं की संख्या बढ़ी है तो राजनीतिक दलों की चुनौतियां भी बढ़ी है.

 

एक नजर नगर निगमों में मतदाताओं की संख्या पर.

 

नगर निगम               वार्डों       महिला           पुरूष                  कुल मतदाता

बिलासपुर                    70       228446       224533           453026

कोरबा                         67       140389       134587           275010

रायगढ़                        48         68417          66007           134433

अंबिकापुर                    48         56661          57109           113776

चिरमिरी                       40         29903         27539              57443

रायपुर                          70       457145       438928            896317

धमतरी                         40         33517          36114             69631

दुर्ग                               60        106804       109234           216062

राजनांदगांव                 51           60739         63860          124601

जगदलपुर                    48           44786         48335            93146

कुल                            542       1226807     1206246      2433445

 

 

पार्टियों ने झोंकी पूरी ताकत

प्रदेश के दस नगर निगमों के 2433445 को साधने और लुभाने के लिए राजनीतिक दलों सहित गौरदलीय नेता प्रत्याशियों ने पूरी ताकत झोंक दी है. सत्ताधारी दल कांग्रेस की ओर से खुद मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सहित तमाम मंत्री-विधायक और संगठन के नेता जहां एक ओर चुनावी मैदान में ताल ठोके हुए हैं, तो वहीं विपक्षीय दल बीजेपी की ओर से पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह सहित तमाम पूर्व मंत्री-विधायक, पूर्व विधायक और संगठने के नेता चुनावी मैदान  में रहे. तमाम कशमश के बाद अब बारी जनता जनार्दन की है. सभी दलों के दावे-वादों के बाद 21 दिसंबर को  कुल 10167 प्रत्याशियों के किस्मत मतपेटी में कैद हो जाएंगे, जिसकी गणना 24 दिसंबर मंगलवार को किया जाएगा.

 

ये भी पढ़ें: 

केंद्रों से परिवहन जल्द नहीं हुआ तो यहां बंद हो सकती है धान खरीदी

 

केंद्र सरकार ने छत्तीसगढ़ से 24 लाख टन चावल खरीदने की दी मंजूरी, पत्र में रखी ये शर्त 

 

कांग्रेस प्रवक्ता किरणमयी नायक का आरोप, पूर्व RDA अध्यक्ष ने किया 78 करोड़ का भ्रष्टाचार   

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रायपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 20, 2019, 11:27 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर