लाइव टीवी

ब्रोकर ने की आत्महत्या, सरकार की आर्थिक नीतियों को ठहराया जिम्मेदार

rakesh yadav
Updated: February 12, 2018, 10:19 AM IST
ब्रोकर ने की आत्महत्या, सरकार की आर्थिक नीतियों को ठहराया जिम्मेदार
ब्रोकर महावीर.

आत्महत्या से पहले व्यापारी ने एक व्हाट्स एप्प ऑडियो मैसेज जारी किया. इस मैसेज में उसने अपनी सारी परेशानी बताई हैं. व्यापारी का ऑडियो मैसेज वायरल हो रहा है.

  • Last Updated: February 12, 2018, 10:19 AM IST
  • Share this:
छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव में एक ब्रोकर ने रेल के आगे कूद कर आत्महत्या कर ली. ब्रोकर ने आत्महत्या से पहले व्हाट्सएप्प में एक ऑडियो मैसेज रिकॉर्ड किया, जो अब वायरल हो रहा है. ब्रोकर ने वायरल मैसेज में नोटबंदी और जीएसटी को अपनी आत्महत्या की वजह बताई. उसने कहा कि नोटबंदी और जीएसटी के करण उसे व्यापार करने में कई प्रकार की परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है, जिससे वो बूरी तरह से टूट चुका है और आत्महत्या करने को मजबूर है. ब्रोकर ने वायरल मैसेज में शहर के दो व्यापारियों पर धोखा देने का आरोप भी लगाया है.

इससे ठीक चार मिनट पहले उसने एक ऑडियो मैसेज ट्रेन की पटरी पर ही खड़े होकर रिकॉर्ड किया और उसे व्हाट्सएप्प पर वायरल कर दिया. रात में ही यह मैसेज पूरे शहर में वायरल हो गया और इसके बाद महावीर की खोज शुरू की गई.

परिजनों ने पुलिस की मदद ली और आखिरकार ट्रेन की पटरी में महावीर की क्षत-विक्षत लाश मिली. पुलिस के मुताबिक रात करीब 9 बजकर 23 मिनट पर बीएनसी मिल के पीछे हटिया कुर्ला एक्सप्रेस के आगे कूद कर आत्महत्या कर ली.

ऑडियो मैसेज में महावीर ने नोटबंदी और जीएसटी के चलते पूरे कारोबार में दिक्कत पैदा होने की बात की है. उसने कहा कि वह अपनी जिंदगी से थक गया है. अपने व्यापारियों को पैसा नहीं दे पा रहा है. नोटबंदी-जीएसटी के कारण पैसा नहीं आ रहा है.

उसने डोंगरगांव रोड में स्थित धनलक्ष्मी पेपर मिल के मालिक विनोद लोहिया और उसके भाई अशोक लोहिया के अलावा सोमनी के पास स्थित तेल कंपनी कमल साल्वेंट के कमल मूंदड़ा का नाम भी ऑडियो में लिया है. उसने कहा है कि शहर से कई लोगों के रुपए वो चला रहा था, लेकिन लोहिया भाईयों ने उसके 70 से 75 करोड़ रुपए रोक लिए जिसकी वजह से उसे यह कदम उठाना पड़ रहा है.

महावीर ने 3 मिनट 21 सेंकड के अपने ऑडियो मैसेज में इन तीन व्यापारियों के नाम का कई बार जिक्र करते हुए अपने से जुड़े बाकी व्यापारियों से कहा है कि उनके भाई और रिश्तेदार उनके रुपए लौटा देंगे.

पुलिस को महावीर के पास से एक सुसाइडल नोट भी मिला है. इस पत्र में भी महावीर ने ऑडियो में कहे गए व्यापारियों के नाम का जिक्र करते हुए अपनी आत्महत्या की वजह इन व्यापारियों को बताया है.पुलिस का कहना है कि रात में शव की बरामदगी के बाद सोमवार सुबह पोस्टमार्ट करवाकर परिजनों को शव सौंप दिया गया है. पुलिस ने कहा कि मृतक का ऑडियो मैसेज और सुसाइड नोट मिला है. जिसकी जांच कराई जाएगी और इसके बाद मामले में शामिल लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया जाएगा.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए राजनांदगांव से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 12, 2018, 8:03 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर