होम /न्यूज /छत्तीसगढ़ /जंगल में गड़ा धन खोजने बच्चे का अपहरण, क्योंकि वो उल्टा पैदा हुआ था, तंत्र क्रिया होने से पहले पहुंची पुलिस

जंगल में गड़ा धन खोजने बच्चे का अपहरण, क्योंकि वो उल्टा पैदा हुआ था, तंत्र क्रिया होने से पहले पहुंची पुलिस

छत्तीसगढ़ की राजनांदगांव पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है.

छत्तीसगढ़ की राजनांदगांव पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है.

छत्तीसगढ़ की राजनांदगांव पुलिस ने अपहरण के एक मामले में बड़ी सफलता हाथ लगने का दावा किया है. राजनांदगांव के चिचोला बार् ...अधिक पढ़ें

राजनांदगांव. छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव जिले में अपहरण के एक मामले में पुलिस ने बड़ी कार्रवाई की है. राजनांदगांव की चिचोला पुलिस को एक बड़ी सफलता हाथ लगी. बीते सोमवार को पुलिस ने पिता-पुत्र के अपहरण के एक मामले में 6 आरोपियों को गिरफ्तार किया है. दुर्ग जिले के भिलाई के रहने वाले पिता-पुत्र को 6 लोग अपहरण करके ले आए थे और जंगल में गड़े धन और रुपए मिलने की लालच में अंधविश्वास की क्रिया को अंजाम दिया जा रहा था.

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक अंधविश्वास की पूर्ति के लिए बच्चे को लाया गया था. आरोपी जंगल के अंदर गड़ा धन और पैसा खोजने का काम कर रहे थे. इसके तहत जंगल के अंदर ही पूजा-पाठ और तांत्रिक क्रिया भी की जा रही थी, जिसके पूरे होने से पहले पुलिस ने 6 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है और इनके पास से दो लग्जरी कार भी जब्त की गई है.

इसलिए किया अपहरण
राजनांदगांव एसपी प्रफुल ठाकुर ने बताया कि भिलाई के रहने वाले पिता-पुत्र को आरोपियों द्वारा बहला-फुसलाकर जंगल लाया गया था. उनको किसी ने बताया था कि बच्चा उल्टा पैदा हुआ है. इन्हें अंधविश्वास था कि उल्टा पैदा हुए बच्चे से तंत्र क्रिया के बाद जंगल में गड़ा धन खोजवाने से मिल जाएगा. इसी अंधविश्वास के चलते जंगल में इस बच्चे को इन आरोपियों के द्वारा ले जाया गया और वहां गड़ा धन और पैसा खोजने का काम इन आरोपियों द्वारा किया जा रहा था. जंगल में पूजा पाठ भी किया जा रहा था. ताकि वह जंगल में गड़े धन को निकाला जा सके. इस अंधविश्वास के चलते पिता पुत्र का अपहरण इन आरोपियों के द्वारा किया गया और घटनास्थल घटना की सूचना पुलिस को लगते ही पुलिस ने इन छह आरोपियों को गिरफ्तार किया है. इन आरोपियों में एक पीडब्ल्यूडी कर्मचारी और एक कोटवार भी शामिल है. सभी आरोपियों को न्यायिक रिमांड पर भेज दिया गया है.

Tags: Chhattisgarh news, Rajnandgaon news

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें