चार साल से कैद इन कछुओं को कोर्ट ने किया आजाद, अब मिलेगी ऐसी जिंदगी

rakesh yadav | News18 Chhattisgarh
Updated: August 19, 2019, 7:55 PM IST
चार साल से कैद इन कछुओं को कोर्ट ने किया आजाद, अब मिलेगी ऐसी जिंदगी
छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव जिला न्यायालय ने कानूनी दांव पेंच में फंसे कुछुओं को लेकर बड़ा आदेश दिया है.

छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव (Rajnandgaon) जिले के बसंतपुर पुलिस थाने (Police Station) की पानी टंकी में साल 2015 से कैद तीन कछुओं को अब आजाद किया जाएगा.

  • Share this:
छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के राजनांदगांव जिला न्यायालय (Court) ने कानूनी दांव-पेंच में फंसे कछुओं को लेकर बड़ा आदेश दिया है. जिला न्यायालय से कछुओं (turtles) को आजाद करने का आदेश आ गया है. न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम न्यायाधीश ने बसंतपुर थाना पुलिस (Police) को इन कछुओं को प्राकृतिक वातावरण में छोड़ने की अनुमति दे दी है. इसके बाद बसंतपुर पुलिस द्वारा डीएफओ राजनांदगांव (DFO Rajnandgaon) को पत्र लिखा गया है. उम्मीद है कि एक दो दिन में ऐसे तीन कछुओं को आजादी मिल जाएगी.

राजनांदगांव (Rajnandgaon) के बसंतपुर पुलिस थाने (Police Station) की पानी की टंकी में साल 2015 से कैद तीन कछुओं को अब आजाद किया जाएगा. तीनों कछुओं को प्राकृतिक वातावरण में छोड़ने की अनुमति प्राप्त हो चुकी है. इस सबंध में पूर्व में बसंतपुर पुलिस ने न्यायालय को पत्र लिखा था. इसके बाद न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी ने कछुओं को आजाद करने की अनुमति दे दी है. तीन वन्य जीव कछुए पुलिस (Police) और वन विभाग के कानूनी पेंच में फंस गए थे. करीब चार साल बाद वे आजाद होंगे.

आरोपी हो चुके हैं रिहा
बसंतपुर पुलिस ने सितंबर 2015 में महामाया चौक के पास दबिश देकर छह आरोपियों को कछुओं की तस्करी करते गिरफ्तार किया था. आरोपी कछुओं के माध्यम से जादू-टोना कर पैसे कमाने के चक्कर में थे. इस मामले में गिरफ्तार आरोपी तो रिहा गए, लेकिन कानूनी पेंच के चलते कछुओं को बसंतपुर थाने में ही रखा गया था. आरोपियों के पास से 4 कछुओं को बरामद किया गया था, जिसमें से एक की मौत हो चुकी है. जिला न्यायालय में अधिवक्ता एचबी गाजी ने बताया कि कोर्ट ने कछुओं को आजाद करने का आदेश दे दिया है. वन विभाग और पुलिस के बीच कानूनी दांव-पेंच के चक्कर में मामला अटका था. इधर बसंतपुर पुलिस थाना प्रभारी राजेश साहू ने बताया कि कोर्ट का आदेश मिल चुका है. अब आगे की कार्रवाई की जा रही है.

ये भी पढ़ें: छत्तीसगढ़ में यहां दर्ज हुआ तीन तलाक का पहला मामला, गर्भवति है पीड़ित महिला 

ये भी पढ़ें: CM भूपेश बघेल के साथ बैठक करेंगे अमित शाह, नक्सल समस्या पर निकल सकता है हल 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए राजनांदगांव से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 19, 2019, 7:14 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...