राजनांदगांव: अपनी 4 सूत्री मांगों को लेकर क्रमिक भूख हड़ताल पर बुजुर्ग पेंशनर्स
Rajnandgaon News in Hindi

राजनांदगांव: अपनी 4 सूत्री मांगों को लेकर क्रमिक भूख हड़ताल पर बुजुर्ग पेंशनर्स
राजनांदगांव: अपनी 4 सूत्री मांगों को लेकर क्रमिक भूख हड़ताल पर बुजुर्ग पेंशनर्स

EPS-1995 निवृत कर्मचारी राष्ट्रीय समिति के बैनर तले बुधवार को कलेक्ट्रेट परिसर के सामने फ्लाईओवर के नीचे बुजुर्ग पेंशनर्स अपनी 4 सूत्री मांगों को लेकर क्रमिक भूख हड़ताल पर बैठे हैं.

  • Share this:
छत्तीसगढ़ में राजनांदगांव जिले के EPS-1995 (Employees Pension Scheme) निवृत कर्मचारी राष्ट्रीय समिति के बैनर तले बुधवार को कलेक्ट्रेट परिसर के सामने फ्लाईओवर के नीचे बुजुर्ग पेंशनर्स अपनी 4 सूत्री मांगों को लेकर क्रमिक भूख हड़ताल पर बैठे हैं. उनकी 4 सूत्री मांगों में 7500 रुपए प्रतिमाह पेंशन प्लस मंहगाई भत्ता, EPS -95 (7) में जिन कर्मचारियों को शामिल नहीं किया गया, उन्हें न्यूनतम 5000 हजार रुपए मासिक पेंशन निर्धारित करना और सभी सेवा निवृत कर्मचारियों को मुक्त वैधकीय सुविधा दैना शामिल है.

पेंशनर एसोसिएशन संघ के जिला अध्यक्ष आर. के. वर्मा का कहना है कि जब तक उनकी ये मांगें पूरी नहीं होती, तब तक सभी बुजुर्ग पेंशनर्स क्रमिक भूख हड़ताल पर बैठे रहेंगे. बता दें कि 'जो पेंशनरों का काम करेगा वही देश पर राज करेगा' का नारा लगाकर अपना हक सरकार से मांग रहे हैं. अपने हक को लेकर जिला मुख्यालय में कलेक्ट्रेट के सामने सुरेश निनावे, नरेन्द्र सिंह ढल्ला, बालमुकुर विश्वकर्मा, पंचराम समेत 5 लोग अपने अन्य साथियों के साथ हड़ताल पर हैं. वहीं हक नहीं मिलने पर ये सभी पेंशनर्स आमरण अनशन पर बैठने और देश की सरकार बनाने में बड़ा फेरबदल करने की बात कही है.

बुजुर्ग पेंशनर्स अपनी 4 सूत्री मांगों को लेकर क्रमिक भूख हड़ताल पर हैं. सरकार सुप्रीम कोर्ट के आदेश का पालन नहीं कर रही है. मांग पूरी नहीं होने पर आमरण अनशन करने की चेतावनी दी है. पूरे देश में 64 लाख से अधिक पेंशनर्स सरकार से मांग कर रहे हैं.



ये भी पढ़ें:- राजनांदगांव में 1 अरब 11 करोड़ क्विंटल धान की खरीदी, आंकड़े और बढ़ने के आसार
ये भी पढ़ें:- सरकार तो नई है लेकिन पिछली सरकार से हटकर काम करेंगे: मंत्री मोहमद अकबर
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज