Home /News /chhattisgarh /

ऊंचाई 12500 फीट, तापमान (-) 16 डिग्री; छत्तीसगढ़ के इस लड़के ने केदार कांठा पर फहराया तिरंगा

ऊंचाई 12500 फीट, तापमान (-) 16 डिग्री; छत्तीसगढ़ के इस लड़के ने केदार कांठा पर फहराया तिरंगा

छत्तीसगढ़ के पर्वतारोही रोहित कुमार ने केदार कांठा फतह कर कमाल कर दिया.

छत्तीसगढ़ के पर्वतारोही रोहित कुमार ने केदार कांठा फतह कर कमाल कर दिया.

छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव के रहने वाले रोहित ने उत्तराखंड की केदार कांठा चोटी पर 280 फीट का तिरंगा लहराया. माइनस 16 डिग्री सेल्सियस वाले तापमान में 12500 फीट की ऊंचाई पर कठिन चढ़ाई चढ़ने के बाद उन्होंने यह उपलब्धि हासिल की. रोहित ने बताया कि यह किसी सपने से कम नहीं था. यह गर्व और गौरव का क्षण था. कई बार परिस्थितियां ऐसी बनीं कि हिम्मत टूट जाए, लेकिन हमने हिम्मत नहीं हारी, दृढ़ इच्छाशक्ति, संकल्प और विश्वास के साथ लक्ष्य हासिल किया.

अधिक पढ़ें ...

राजनांदगांव. कहा जाता है कि अगर हौसले बुलंद हो तो बड़े से बड़े लक्ष्य को प्राप्त किया जा सकता है. ऐसा ही कुछ कर दिखाया है. छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव के सोमनी के रहने वाले रोहित कुमार ने, जिसने उत्तराखंड के केदार कांठा नामक पहाड़ी पर 280 फीट का तिरंगा लहराया. माइनस 16 डिग्री सेल्सियस पर 12500 फीट की ऊंचाई पर कठिन चढ़ाई चढ़ने के बाद यह कीर्तिमान हासिल किया. इंडियन एडवेंचर फाउंडेशन द्वारा आयोजित विंटर ट्रैकिंग कैंप में देशभर के 8 राज्यों के 26 प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया, जिसमें राजनांदगांव के रोहित भी शामिल थे.

रोहित ने उत्तराखंड की चोटी पर तिरंगा लहराया है. माइनस 16 डिग्री सेल्सियस होने के बाद भी कठिन चढ़ाई चढ़ते हुए इन्होंने यह कीर्तिमान हासिल किया है और कहीं ना कहीं शहर और प्रदेश का नाम रोहित ने रोशन किया है. रोहित ने बताया कि केदार कांठा ट्रैक पहुंचने का सफर बेहद मुश्किल और चुनौतीपूर्ण था. रात 3:00 बजे से ट्रैकिंग शुरू हुई अंधेरे में चलना और बर्फ के जूतों में फिसलन हो रही थी पहली बार इतनी अधिक ऊंचाई पर पहुंचने के बाद तिरंगा लहराया. यह किसी सपने से कम नहीं था यह गर्व और गौरव का क्षण था. कई बार परिस्थितियां ऐसी बनी की हिम्मत टूट जाए, लेकिन हमने हिम्मत नहीं हारी दृढ़ इच्छाशक्ति संकल्प और विश्वास के साथ लक्ष्य हासिल किया.

रोहित ने किया दल का नेतृत्व
राजनांदगांव के रोहित कुमार ने ट्रैकिंग करने वाले इस दल का नेतृत्व किया. रोहित ने राष्ट्रीय स्तर पर आयोजित इस ट्रैकिंग कैंप में अपनी एक अलग पहचान बनाई और यह कीर्तिमान हासिल किया रोहित के हौसले की उड़ान लगातार जारी है. राेहित का कहना है कि आने वाले समय में और कीर्तिमान हासिल करने का प्रयास करेंगे. बता दें कि छत्तीसगढ़ के लोगों में भी इन दिनों ट्रैकिंग का जुनून बढ़ा है. लोगों में ट्रैकिंग को लेकर उत्साह भी देखने को मिल रहा है.

Tags: Chhattisgarh news, Mountaineer, Rajnandgaon news

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर