होम /न्यूज /छत्तीसगढ़ /

छत्तीसगढ़ में स्वच्छता के लिये नई पहल: राजनांदगांव में अब निगम कर्मचारी रात को भी उठायेंगे कचरा

छत्तीसगढ़ में स्वच्छता के लिये नई पहल: राजनांदगांव में अब निगम कर्मचारी रात को भी उठायेंगे कचरा

महापौर हेमा सुदेश देशमुख ने बताया कि रात में लगने वाले ठेले, खोमचों और अन्य दुकानों से कचरा अब रात को ही उठा लिया जायेगा.

महापौर हेमा सुदेश देशमुख ने बताया कि रात में लगने वाले ठेले, खोमचों और अन्य दुकानों से कचरा अब रात को ही उठा लिया जायेगा.

राजनांदगांव में स्वच्छता के लिये नई पहल: छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव नगर निगम (rajnandgaon municipal corporation) ने स्वच्छता की दिशा में एक और कदम बढ़ाते हुये अब रात के समय भी शहर से कचरा उठाने की नई पहल (New initiative) की है. इसके तहत शाम को 6 बजे से रात 11 बजे तक भी डोर-टू-डोर कचरा एकत्र किया जायेगा ताकि अलसुबह शहर का नजारा साफ सुथरा नजर आये.

अधिक पढ़ें ...

हाइलाइट्स

राजनांदगांव नगर निगम की नई और अनूठी पहल
अब शाम को 6 बजे से रात 11 बजे तक भी उठाया जायेगा कचरा

राजनांदगांव. छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव नगर निगम (rajnandgaon municipal corporation) ने स्वास्थ्य सेवाओं में गुणात्मक सुधार लाने और शहर को स्वच्छ एवं साफ रखने के लिये नई पहल (New initiative) की है. नगर निगम की ओर से अब रात में भी डोर-टू-डोर से कचरा उठाया जायेगा ताकि अलसुबह शहर का नजारा बेहतर दिखे. शनिवार रात को मानव मंदिर चौक में निगम की महापौर हेमा सुदेश देशमुख ने पार्षदों और चैम्बर ऑफ कॉमर्स के पदाधिकारियों के साथ पूजा अर्चना कर वाहन को हरी झंडी दिखाकर कचरा संग्रहण कार्य का शुभारंभ किया.

महापौर देशमुख ने कहा कि नगर निगम की ओर से स्वच्छता के तहत प्रतिदिन साफ सफाई के साथ साथ प्रातः डोर-टू-डोर कचरा संग्रहण किया जाता है. लेकिन अब शहर और साफ एवं स्वच्छ रखने के लिये रात को भी कचरा उठाने का कार्य किया जाएगा. यह कार्य शाम को 6 बजे से रात 11 बजे तक चलेगा. इसमें स्वच्छता दीदी रात में लगने वाले ठेले, खोमचों और अन्य दुकानों से कचरा संग्रहण करेंगी.

नगर निगम के प्लान की यह है पृष्ठभूमि
देशमुख ने कहा कि शहर के कई स्थानों में चाट, आईस्क्रीम, चाय और अन्य खाद्य पदार्थ ठेले तथा खोमचों के माध्यम से बेचे जाते हैं. उनका कचरा सड़क पर पड़ा रहता है. इसी प्रकार कुछ दुकानदार भी दुकान बंद करते समय कचरा सड़क पर डाल देते हैं. उस कचरे को रात में मवेशी भी फैला भी देते हैं. इससे वातवरण दूषित होता है.

स्वच्छता अभियान में जनता की भागीदारी अत्यंत अवश्यक
बकौल देशमुख इसे ध्यान में रखते हुये नगर निगम की ओर से यह नई पहल की जा रही है. इसके तहत अब रात को भी डोर-टू-डोर कचरा संग्रहण कार्य प्रारंभ किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि स्वच्छता अभियान में जनता की भागीदारी अत्यंत अवश्यक है. सब मिलकर अपने शहर को स्वच्छ एवं साफ रखकर हम स्वच्छता रैकिंग में उच्च स्थान प्राप्त कर सकते हैं. इस मौके पर नगर निगम आयुक्त आशुतोष चतुर्वेदी और चैंबर ऑफ कॉमर्स के अध्यक्ष शरद अग्रवाल समेत निगम से जुड़े कई अधिकारी और कर्मचारी मौजूद थे. उम्मीद जताई जा रही है कि अगर राजनांदगांव निगम का प्रयोग सफल रहा तो संभवतया इसे अन्य निगम भी अपना सकते हैं.

Tags: Chhattisgarh news, Cleanliness campaign, Rajnandgaon news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर