लाइव टीवी

हावड़ा-मुंबई रेल लाइन में टूटा OHE तार, कई ट्रेन हुई लेट, मरम्मत जारी
Rajnandgaon News in Hindi

Rakesh Kumar Yadav | News18 Chhattisgarh
Updated: February 12, 2020, 2:55 PM IST
हावड़ा-मुंबई रेल लाइन में टूटा OHE तार, कई ट्रेन हुई लेट, मरम्मत जारी
ओएचई तार टूटने से कई ट्रेन प्रभावित हुई.

मुंबई से हावड़ा की ओर चलने वाली गाड़ियां बाकल और मुसरा के बीच हाई टेंशन तार के टूटने के बाद से दोरंतो, राजधानी जैसे सुपर फास्ट ट्रेन 3 घंटे तक एक ही जगह पर खड़ी रही.

  • Share this:
राजनांदगांव. राजनांदगांव (Rajnandgaon) जिले के मुसरा-बाकल रेलवे स्टेशन के बीच ओएचई तार (OHE Line) टूटने से हावड़ा-मुंबई रेल सेवा (Howrah-Mumbai Rail Line) तकरीबन 3 से 4 घंटे तक बाधित रही. दुरंतो और अन्य यात्री ट्रेनों के परिचालन में इसका खासा असर पड़ा. बता दें कि राजनांदगांव से लगे स्टेशन बाकल और मुसरा के बीच बुधवार सुबह हाई टेंशन तार टूटने से डाउन की ट्रेनें  लगभग 3 घंटे से ज्यादा समय तक नहीं चली. मुंबई से हावड़ा की ओर चलने वाली  गाड़ियां बाकल और मुसरा के बीच हाई टेंशन तार के टूटने के बाद से दोरंतो (Doranto), राजधानी जैसे सुपर फास्ट ट्रेन 3 घंटे तक एक ही जगह पर  खड़ी रही.


मरम्मत जारी





इस मामले में राजनांदगांव रेलवे स्टेशन के प्रबंधक एमपी अख्तर का कहना है कि डाउन लाइन में तार  टूटने की वजह से रायपुर से डिजल इंजन मंगाकर सबसे पहले दोरंतो एक्सप्रेस को रवाना किया गया है. फिलहाल, नागपुर और बिलासपुर से दो टीमें आई है जो मरम्मत का काम कर रही हैं. लेकिन इस ट्रैक को  सुचारू रूप से  चलाने में अभी भी थोड़ा और वक्त लग सकता है.


यात्रियों को हुई परेशानी


राजनांदगांव रेलवे स्टेशन में कई घंटे तक यात्री परेशान होते रहे और स्टेशन में बैठकर अपनी ट्रेन का इंतजार करते नजर आए. ऑफिस जाने वाले यात्रियों को भी ज्यादा परेशानी हुई, जिसमें रायपुर और दुर्ग वाले शामिल हैं. वहीं डेली यात्रा करने वाले निजी कार्यालयों में और शासकीय कार्यालयों में काम करने वाले लोगों को भी काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा.




यात्रियों को काफी परेशानी हुई.




यात्रियों को 3 से 4 घंटे स्टेशन में बिताने पड़ा, तब जाकर कुछ ट्रेनों को डीजल इंजन के सहारे जोड़कर राजनांदगांव दुर्ग और रायपुर लाया गया. रायपुर से डीजल इंजन भेजा गया जिसके सहारे मुसरा और बाकल के बीच खड़ी दुरंतो और राजधानी एक्सप्रेस को राजनांदगांव दुर्ग और रायपुर लाया गया. इसके साथ ही दूसरे ट्रैक में इन ट्रेनों को भी शिफ्ट किया गया, जिसके बाद धीरे-धीरे यात्री गाड़ियों वब ट्रैक पर आने लगी.








ये भी पढ़ें: 




News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए राजनांदगांव से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 12, 2020, 2:55 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर