Home /News /chhattisgarh /

police registered fir against mayor hema deshmukh mayor for carrying the tricolor upside down video gone viral nodps

CG: कांग्रेस महापौर हेमा सुदेश ने उल्टा तिरंगा लेकर निकाली कांवड़ यात्रा, सोशल मीडिया पर फोटो वायरल, मचा बवाल

8 अगस्त को श्री बागेश्वर मंदिर समिति के द्वारा एक कांवड़ यात्रा निकाली गई थी.

8 अगस्त को श्री बागेश्वर मंदिर समिति के द्वारा एक कांवड़ यात्रा निकाली गई थी.

छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव जिले में बीते 8 अगस्त को कांवड़ यात्रा निकाली गई थी. इस यात्रा में महापौर हेमा सुदेश देशमुख समेत सैकड़ों लोग शामिल हुए थे. इस यात्रा के दौरान महापौर हेमा सुदेश ने हाथ में उल्टा तिरंगा पकड़ा हुआ था. जिसका वीडियो और फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा था. भाजपा ने इसकी शिकायत दर्ज कराई है. इसके बाद भाजपा की पार्षद मणि भास्कर भी इसी शामिल थीं और उनके हाथ में भी उल्टा तिरंगा था. जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया. कांग्रेस ने भी पार्षद मणि भास्कर के खिलाफ मामला दर्ज कराया है.

अधिक पढ़ें ...

राजनांदगांव. छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव की महापौर तिरंगा को लेकर विवादों में घिर गईं हैं. दरअसल कांवड़ यात्रा के दौरान महापौर हेमा सुदेश देशमुख ने तिरंगे को उल्टा पकड़ा हुआ था. इसकी फोटो और वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गए. वीडियो वायरल होते ही बवाल मच गया. भाजपा द्वारा इसकी शिकायत कोतवाली में की गई. इसके बाद पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर ली. अब मामला दर्ज होने के बाद बवाल मच गया है.

इधर कांग्रेस द्वारा इस यात्रा में भाजपा पार्षद मणि भास्कर गुप्ता द्वारा उल्टा तिरंगा झंडा पकड़े जाने की शिकायत पर भी जुर्म कायम किया है.वहीं पुलिस मामले की जांच भी कर रही है. हाल ही में 8 अगस्त को श्री बागेश्वर मंदिर समिति के द्वारा एक कांवड़ यात्रा निकाली गई थी. इसी दौरान आजादी के अमृत महोत्सव के चलते हर किसी के हाथ में तिरंगा भी दिया गया था. इसी दौरान महापौर हेमा देशमुख के हाथों में उल्टा तिरंगा था. जिसका वीडियो सोशल मीडिया में वायरल होते ही भाजपा ने कार्रवाई के लिए कोतवाली थाने में शिकायत की थी.

कांग्रेस ने भी दर्ज कराया मामला
इसके बाद अचानक से भाजपा की पार्षद मणि भास्कर का भी वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने लगा. मणि भास्कर भी इसी कांवड़ यात्रा में शामिल हुईं थीं और उनके हाथ में भी उल्टा झंडा था. इसको लेकर कांग्रेस ने भी हंगामा शुरू कर दिया और मामले की शिकायत पुलिस में की गई.

इसके बाद कांग्रेस की महापौर हेमा सुदेश देशमुख और भाजपा की पार्षण मणि भास्कर गुप्ता के खिलाफ भी बुधवार देर रात मामला दर्ज किया गया. बताया गया कि इन नेताओं के खिलाफ अब भारतीय ध्वज आचार संहिता 2002 व राष्ट्रीय गौरव अपमान निवारण अधिनियम 1971 की धारा 2 के तहत कार्यवाही की जाएगी. मिली जानकारी के अनुसार इसमें 3 साल तक की जेल व जुर्माने का प्रावधान है या दोनों ही हो सकते हैं.

महापौर बोलीं तिरंगे का पूरा सम्मान
वहीं इस मामले में महापौर हेमदेशमुख ने कहा कि देश का संविधान और कानून सर्वोपरि है. मैं राष्ट्र ध्वज तिरंगे झंडे का पूरा सम्मान करती हूं और मैं सदैव नतमस्तक हूं और रहूंगी. कानून अपना काम करे. संविधान सम्मत मैं हर जांच के लिए तैयार हूं. राष्ट्रध्वज की आन बान और शान में कोई भी कमी हुई है तो मैं पुनः हृदय से खेद प्रकट करती हूं.

Tags: Chhattisgarh news, Rajnandgaon news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर