होम /न्यूज /छत्तीसगढ़ /राजनांदगांव एसपी की नई पहल, इस खास दिन डांटते नहीं, जवानों को देते हैं सरप्राइज

राजनांदगांव एसपी की नई पहल, इस खास दिन डांटते नहीं, जवानों को देते हैं सरप्राइज

Rajnandgaon News: राजनांदगांव के एसपी प्रफुल्ल ठाकुर ने जवानों को तनाव मुक्त करने के लिए नई परंपरा शुरू की है.

Rajnandgaon News: राजनांदगांव के एसपी प्रफुल्ल ठाकुर ने जवानों को तनाव मुक्त करने के लिए नई परंपरा शुरू की है.

Chhattisgarh News: छत्तीसगढ़ की राजनांदगांव पुलिस ने ऐसी परंपरा शुरू की है, जिससे जवान तनाव मुक्त भी रहेंगे और परिवार क ...अधिक पढ़ें

राजनांदगांव. राजनांदगांव पुलिस ने छत्तीसगढ़ राज्य में पहली बार अनोखी पहल की है. यहां के एसपी ने नई परंपरा की शुरुआत करते हुए पुलिस जवानों को उनके जन्मदिन पर ग्रीटिंग और मिठाई दी. इस नए चलन का उद्देश्य जवानों का मनोबल बढ़ाना है. पुलिस अधिकारी और कर्मचारी इस अनोखी परंपरा से फूले नहीं समा रहे हैं. उनका कहना है कि जिले में पहली बार ऐसी परंपरा शुरू हुई है. एसपी के हाथ से ग्रीटिंग और मिठाई पाकर वह बहुत खुश हैं. जन्मदिन पर एसपी मिठाई के साथ-साथ 1 दिन की छुट्टी भी दे रहे हैं, ताकि जवान अपने परिवार के साथ समय बिता सकें.

इस नई परंपरा को शुरू करने वाले एसपी प्रफुल्ल ठाकुर का कहना है कि पुलिस के जवान लगातार लाइन अंडर, वीआईपी और अन्य कठिन ड्यूटी करते हैं. कर्तव्य के बीच जवान यह भी भूल जाते हैं कि उनका जन्मदिन कब है. इतनी व्यस्तता के कारण वह अपना जन्मदिन भी नहीं मना पाते. इसलिए मैंने ये नई पहल की है. जिस भी पुलिस अधिकारी या जवान का जन्मदिन होता है उसे मैं अपने ऑफिस में बुलाता हूं. एक ग्रीटिंग कार्ड देता हूं, मिठाई का डिब्बा देता हूं. साथ ही उन्हें 1 दिन की छुट्टी भी दी जाती.

एसपी ने कही ये बात
एसपी ठाकुर ने बताया कि जिन जवानों की ड्यूटी नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में है, उन्हें 1 दिन पहले डाक से मिठाई और ग्रीटिंग भेज दिए जाते हैं. इससे उन जवानों का मनोबल भी बढ़ता है. उनका कहना है कि इतने तनाव भरे पल में एक छोटी सी खुशी इन जवानों के लिए अमृत और संजीवनी का काम करती है. अपने जन्मदिन पर वह जीवन का एक दिन परिवार के साथ मनाते हैं.

नक्सली आतंक के बीच तनाव वाली ड्यूटी
गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ में नक्सलियों का आतंक है. वह स्पेशल फोर्स के साथ-साथ शहरों की पुलिस को भी कई बार निशाना बनाते हैं. इसके अवाला पुलिस जवानों को वीआईपी ड्यूटी के साथ-साथ कई अन्य तरह के कर्तव्य निभाने पड़ते हैं. इस वजह से छत्तीसगढ़ के पुलिस जवान अधिकांश वक्त तनाव में जीते हैं. राजनांदगांव एसपी की इस पहल से कुछ ही पलों के लिए सही, लेकिन जवानों को राहत मिल रही है. जवानों का कहना है कि एसपी के कदम से वह खुश हैं.

Tags: Chhattisgarh news, Rajnandgaon news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें