होम /न्यूज /छत्तीसगढ़ /Good News: जॉर्डन में होने वाले एशियन चैंपियनशिप में अपने खेल का जौहर दिखाएंगी छत्तीसगढ़ की 2 खिलाड़ी

Good News: जॉर्डन में होने वाले एशियन चैंपियनशिप में अपने खेल का जौहर दिखाएंगी छत्तीसगढ़ की 2 खिलाड़ी

प्रार्थना साल्वे और मोनी अडला का चयन बेंगलुरु में खेले गए ट्रायल और सलेक्शन मैच में किए शानदार प्रदर्शन के दम पर हुआ है.

प्रार्थना साल्वे और मोनी अडला का चयन बेंगलुरु में खेले गए ट्रायल और सलेक्शन मैच में किए शानदार प्रदर्शन के दम पर हुआ है.

छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव भारतीय खेल प्राधिकरण सेंटर की 2 महिला खिलाड़ियों का भारतीय टीम में चयन हुआ है. दोनों खिलाड़ी ...अधिक पढ़ें

राजनांदगांव. छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव भारतीय खेल प्राधिकरण सेंटर के दो महिला खिलाड़ियों ने कमाल किया है. ये दोनों खिलाड़ी अपने खेल के दम पर अंडर 16 जॉर्डन में होने वाले इंटरनेशनल बास्केटबॉल चैंपियनशिप में भारतीय टीम का हिस्सा बन गई हैं. भारतीय बास्केटबॉल टीम में प्रार्थना साल्वे और मोनी अडला का चयन हुआ है. अब छत्तीसगढ़ की दोनों प्रतिभावान खिलाड़ी जॉर्डन में होने वाले इंटरनेशनल बास्केटबॉल चैंपियनशिप में भारतीय टीम की तरफ से अपने शानदार खेल का प्रदर्शन करेंगी. दोनों खिलाड़ियों का एक ही दिन के अंदर पासपोर्ट बनवाया गया है. इसके लिए दोनों खिलाड़ियों ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का आभार भी व्यक्त किया है. बता दें कि प्रार्थना साल्वे और मोनी अडला का चयन बेंगलुरु में खेले गए ट्रायल और सलेक्शन मैच में किए शानदार प्रदर्शन के दम पर हुआ है. दोनों खिलाड़ी भारतीय खेल प्राधिकरण राजनांदगांव की हैं.

बता दें कि राजनांदगांव की पहचान अब बास्केटबॉल में धीरे-धीरे होने लगी है. यहां के खिलाड़ी भारतीय टीम में अपने खेल का जौहर दिखा रहे हैं. प्रार्थना साल्वे ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का आभार व्यक्त किया है. उनके पासपोर्ट बनाने में कुछ दिक्कतें आ रही थी लेकिन मुख्यमंत्री ने एक ही दिन में पासपोर्ट उन्हें उपलब्ध कराया है. इंटरनेशनल कोच के राजेश्वर राव का कहना है कि भारतीय खेल प्राधिकरण राजनांदगांव की दो बच्चियों का चयन एशियन चैंपियनशिप के लिए हुआ है.

यह भारती बास्केटबॉल टीम में भारत का प्रतिनिधित्व करेंगे. यह शहर ही नहीं पूरे प्रदेश के लिए और देश के लिए गौरव की बात है. भारतीय खेल प्राधिकरण राजनांदगांव की अपनी एक अलग पहचान है. यहां से सैकड़ों खिलाड़ी खेल कर निकले हैं और भारतीय महिला और पुरुष बास्केटबॉल टीम में अपनी जगह बनाई है. राजनांदगांव की बास्केटबॉल में देश में अपना अलग नाम है.

देश की महिला खिलाड़ियों का प्रोत्साहन कर रही सरकार
बता दें कि बीते कुछ सालों वैश्विक खेल मंच पर भारत की महिला एथलीटों ने खूब नाम कमाया है. इसको लेकर केंद्र सरकार भी आगे आकर खिलाड़ियों को प्रोत्साहित करना चाहती है. इसके लिए सरकार ने एक बड़ा फैसला लिया है. अब अगले तीन से चार सालों में नौ खेलों पर खेलो इंडिया महिला लीग आयोजित किए जाएंगे, जिस पर 15.03 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे. बता दें कि केंद्र और राज्य सरकारें अब खिलाड़ियों को प्रोत्साहित कर रही है. ताकी आने वाले समय में वैश्विक प्रतिस्पर्धाओं में भारत का प्रतिनिधित्व बढ़ सके.

Tags: Chhattisgarh news

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें