अस्पताल की लिफ्ट में नवजात संग 2 घंटे तक फंसा रहा पूरा परिवार, पुलिस ने ऐसे बचाई जान

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के राजनांदगांव (Rajnandgaon) शहर के मेडिकल कॉलेज (Medical College) हॉस्पिटल की लिफ्ट में 9 जिंदगियां तकरीबन 2 घंटे तक फंसी रहीं.

  • Share this:
राजनांदगांव. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के राजनांदगांव (Rajnandgaon) शहर के शासकीय मेडिकल कॉलेज (Medical College) हॉस्पिटल की लिफ्ट में 9 जिंदगियां तकरीबन 2 घंटे तक फंसी रहीं. जिसमें एक दिन का नवजात और उसकी मां भी लिफ्ट में फंसी रही, जिसके चलते दोनों की हालत खराब हो गई. उन्हें इलाज के लिए वापस हॉस्पिटल में एडमिट किया गया है. घटना की जानकारी मिलते ही मेडिकल कॉलेज में स्थित पुलिस चौकी के जवानों ने तुरंत रेस्क्यू कर लिफ्ट में फंसे पूरे परिवार को बाहर निकाला.

राजनांदगांव मेडिकल कॉलेज (Rajnandgaon Medical College) हॉस्पिटल के लिफ्ट में नवजात शिशु और मां सहित पूरा परिवार फंस गया. मेडिकल कॉलेज अस्पताल से लगे सौ बिस्तरों वाले सरकारी अस्पताल की लिफ्ट बीते रविवार की देर रात अचानक खराब हो गई. इस दौरान सीजर डिलीवरी के बाद तीसरे माले से नीचे जा रही मां, बच्चा और पूरा परिवार लिफ्ट में फंस गया. परिजनों ने मदद के लिए गुहार लगाई. इस दौरान बाहर मौजूद लोगों ने मामले की जानकारी, मेडिकल कॉलेज की चौकी को दी. सूचना मिलते ही चौकी के दो आरक्षक अस्पताल पहुंचे. कड़ी मशक्कत के बाद जवानों ने पूरे परिवार को बाहर निकाल लिया.

बिगड़ी तबीयत
लिफ्ट में मितानिन अनीता वशिष्ठ सहित नवजात शिशु और उसका पूरा परिवार फंसा रहा. घटना के बाद तीन लोगों की स्थिति बहुत खराब हो चुकी थी. उन्हें इलाज के लिए फौरन अस्पताल में भर्ती कराया गया. अब जच्चा और बच्चा दोनों की स्थिति सामान्य बताई जा रही है. बताया जा रहा है कि तीन दिन पहले ही लिफ्ट की मरम्मत कराई गई थी. घटना के बाद अस्पताल प्रबंधन की ओर से अधीक्षक डॉ. प्रदीप बेग का कहना है कि तीन दिन पहले ही लिफ्ट का मेंटेनेस कराया गया है. इसके बावजूद लिफ्ट में खराबी आई है. मामले की जांच कराई जाएगी.
ये भी पढ़ें: डेढ़ महीने से मुसीबत में फंसे इन बंदरों को है 'राम' का इंतजार, प्रशासन कर रहा ये काम 



कांग्रेस के मंत्री ने BJP विधायक अजय चन्द्राकर को बताया सर्कस का जोकर, वीडियो वायरल 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज