अपना शहर चुनें

States

भारत की तारीफ करने पर शाहिद अफरीदी की आलोचना होनी चाहिए? अपनी राय दीजिए

क्या भारत की तारीफ करने पर पाकिस्तान क्रिकेट टीम के टी-20 फॉर्मेट के कप्तान शाहिद अफरीदी और शोएब मलिक की आलोचना होनी चाहिए? पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर जावेद मियांदाद ने तो यहां तक कह दिया कि अफरीदी को शर्म आनी चाहिए.
क्या भारत की तारीफ करने पर पाकिस्तान क्रिकेट टीम के टी-20 फॉर्मेट के कप्तान शाहिद अफरीदी और शोएब मलिक की आलोचना होनी चाहिए? पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर जावेद मियांदाद ने तो यहां तक कह दिया कि अफरीदी को शर्म आनी चाहिए.

क्या भारत की तारीफ करने पर पाकिस्तान क्रिकेट टीम के टी-20 फॉर्मेट के कप्तान शाहिद अफरीदी और शोएब मलिक की आलोचना होनी चाहिए? पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर जावेद मियांदाद ने तो यहां तक कह दिया कि अफरीदी को शर्म आनी चाहिए.

  • Pradesh18
  • Last Updated: March 15, 2016, 4:32 PM IST
  • Share this:
पाकिस्तान टीम के टी- 20 फॉरमेट के कप्तान शाहिद अफरीदी ने भारत की तारीफ क्या की उनके पीछे पूरा पाकिस्तान का मीडिया और पूर्व क्रिकेटर पड़ गए हैं. जावेद मियांदाद ने तो अफरीदी को धिक्कारते हुए कहा है कि उन्हें शर्म आनी चाहिए और पूछा है कि भारत ने क्या दिया है? मियांदाद ने कहा कि अफरीदी का बयान 'आहत और हैरान' कर देने वाला है.
इतना ही नहीं शाहिद अफरीदी के बयान पर लाहौर हाईकोर्ट में एक याचिका दाखिल की गई है. अफरीदी को नोटिस भेजकर 15 दिन में जवाब मांगा गया है.
कोर्ट में दाखिल याचिका में शाहिद अफरीदी पर राजद्रोह और पाकिस्तानियों की भावनाओं को आहत करने के आरोप में सोमवार को एक नोटिस जारी कर उनसे 15 दिन में जवाब मांगा है. अफरीदी को वरिष्ठ वकील अजहर सादिक ने लीगल नोटिस भेजा है.
आपको बता दें कि अफरीदी और वरिष्ठ खिलाड़ी शोएब मलिक टी 20 विश्व कप के लिए कोलकाता पहुंचने पर भारत की तारीफ करते हुए कहा था कि उन्हें हमेशा भारत में खेलने में मजा आया और यहां खेलने में कभी डर नहीं लगा.
गौरतलब है कि अफरीदी भारत में कई बार खेलने आए हैं और यहां के दर्शकों ने उनकी और पाकिस्तान की टीम के सभी खिलाड़ियों को हमेशा प्यार और सम्मान किया है. पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज वसीम अकरम तो हमेशा भारतीय क्रिकेट कमेंटरों को बीच दिखते हैं और कई हिंदी कमेंटरी में हिस्सा लेते रहते हैं. वहीं दूसरे पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर तो यहां के न्यूज चैनलों और स्पोर्ट्स चैनलों में इतना हिस्सा लेते हैं कि  उनकी हिंदी भी लाजवाब हो गई है.

आपको क्या लगता है भारत की तारीफ कर देने से अफरीदी ने इतना बड़ा गुनाह कर दिया है कि उनके खिलाफ पाकिस्तान मुकदमा दर्ज हो जाए?


मियांदाद का ये बोलना 'अफरीदी शर्म करो' कितना उचित है? आप अपनी राय दीजिए.. इसके लिए नीचे दिए गए  बॉक्स में अपनी टिप्पणी लिखें और सबमिट करें.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज