पीएम के दौरे से बस्तर को कोई लाभ नहीं मिला: कवासी लखमा

सुकमा जिले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बस्तर दौरे को लेकर उपनेता प्रतिपक्ष कवासी लखमा ने कहा कि बस्तरवासियों को काफी उम्मीदें थी कि मोदी बस्तर के लिए कोई विशेष योजना लाएंगे, लेकिन उन्होंने जनता को निराश कर दिया है.

Salim Sheikh
Updated: April 17, 2018, 4:22 PM IST
पीएम के दौरे से बस्तर को कोई लाभ नहीं मिला: कवासी लखमा
पीएम के दौरे से बस्तर को कोई लाभ नहीं मिला: कवासी लखमा
Salim Sheikh
Updated: April 17, 2018, 4:22 PM IST
छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बस्तर दौरे को लेकर बस्तरवासियों को काफी उम्मीदें थी. जनता में खुशी थी कि पीएम मोदी बस्तर के लिए कोई विशेष योजना लाएंगे, लेकिन उन्होंने जनता को निराश कर दिया है. मोदी के दौरे की तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी और राजीव गांधी के बस्तर प्रवास से तुलना करते हुए कवासी लखमा ने कहा कि जब भी कांग्रेस की सरकार में रहे प्रधानमंत्री बस्तर आएं हैं वे कुछ न कुछ बस्तरवासियों को देकर गए हैं.

कवासी लखमा ने कहा कि इससे पहले भी भारत की भूतपूर्व प्रधानमंत्री स्व. इंदिरा गांधी ने नारायणपुर जिले में शिक्षा को बढ़ावा देने के लिहाज से रामकृष्ण आश्रम खोलने की घोषणा की थी. वहीं नक्सल प्रभावित क्षेत्र कोंटा दौरे में पहुंचे स्व. राजीव गांधी ने भी पंचायती राज अधिनियम की शुरुआत की थी, लेकिन वर्तमान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बस्तरवासियों को केवल झुनझुना पकड़ा दिया है.

पत्रकारों से चर्चा करते हुए उपनेता प्रतिपक्ष कवासी लखमा ने कहा कि बीजापुर और बस्तर के लोगों को प्रधानमंत्री के प्रवास से काफी उम्मीदें थी. उन्कों लगा था कि ये नक्सल प्रभावित क्षेत्र है, तो वो यहां की जनता कुछ न कुछ नई सौगात देकर जाएंगे. इसके अलावा आदिवासियों को नैकरी मिलने की उम्मीद थी, लेकिन लोगों को सिर्फ निराशा हाथ लगी है.

कवासी लखमा ने कहा कि आगामी विधानसभा चुनाव में छत्तीसगढ़ में कांग्रेस पार्टी सरकार बनाए. साथ ही बस्तर की सभी 12 सीटों पर कांग्रेस की जीत का दावा किया है.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर