लाइव टीवी

Corona Effect: सलवा जुडूम के कारण इस परिवार ने छोड़ा था गांव, अब ऐसे हुई 'घर वापसी''
Sukma News in Hindi

News18 Chhattisgarh
Updated: March 30, 2020, 1:08 PM IST
Corona Effect: सलवा जुडूम के कारण इस परिवार ने छोड़ा था गांव, अब ऐसे हुई 'घर वापसी''
सुकमा का परिवार तेलांगाना मजदूरी करने गया था.

कोरोना वायरस (Corona Virus) के संक्रमण को कम करने के लिए पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने पहले जनता कर्फ्यू (Janta Curfew) और फिर पूरे देश में लॉकडाउन (Lockdowm) का एलान किया.

  • Share this:
सुकमा. कोरोना वायरस (Corona Virus) के संक्रमण को कम करने के लिए पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने पहले जनता कर्फ्यू (Janta Curfew) और फिर पूरे देश में लॉकडाउन (Lockdowm) का एलान किया. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) सरकार ने भी लोगों को घर पर ही रहने की हिदायत दी. कोरोना वायरस को लेकर पूरे देश से आ रही कई खबरों के बीच छत्तीसगढ़ के सुकमा (Sukma) जिले के कोंटा ब्लॉक से एक अच्छी खबर आई है. सलवा जुडूम (Salwa Judum) के कारण 14 साल पहले अपना गांव छोड़कर मजदूरी के लिए तेलंगाना (Telangana) गए मड़कम बजारी परिवार अब वापस लौटा है.


मालूम हो कि 2005 ने सलवा जुडूम की शुरुआत कोंटा से हुई थी. उस दौरान हुई हिंसा के बीच हजारों की संख्या में आदिवासी अपने-अपने गांवों को छोड़ तेलंगाना ओर आंध्र प्रदेश मजदूरी के चले गए थे. ऐसे ही मुलाकिसोली गांव का मड़कम बजारी अपने परिवार के साथ गांव छोड़कर तेलंगाना के सारपाका मंडल के समीप श्रीरामपुरम पहुंच गया और मजदूरी करने लग गया. पिछले 15 साल से अपने परिवार के साथ वहीं मजदूरी करते था, लेकिन कोरोना वायरस के कारण वहां मजदूरी करना मुश्किल हो गया. तब अपने रिश्तेदार को फोन कर वापस आने की इच्छा जताई और अपनी पत्नी मुमि अम्मा के साथ गांव लौट आया.







लॉकडाउन में गांव वालों ने भी परिवार की मदद की.






ग्रामीणों ने तैयार की झोपड़ी, सचिव ने दिया राशन


15 साल बाद गांव लौटा मड़कम परिवार का ग्रामीणों ने भी स्वागत किया. इस मुसीबत की घड़ी में एक ओर जहां पूरा देश लॉकडाउन है वहां ग्रामीणों ने इस परिवार की मदद के लिए हाथ बढ़ाया. देखते ही देखते एक झोपडी बना दी. वहीं सूचना मिलते ही पंचायत के सचिव साईं श्रीनिवास ने पंचायत की तरफ से राशन दिया. हालांकि मड़कम परिवार के पास छत्तीसगढ़ का कोई दस्तावेज नहीं है.  पंचायत के सचिव साईं श्रीनिवास  के मुताबिक बजारी परिवार के सभी सदस्यों का मेडिकल चेकअप करवा लिया गया है. उसके बाद ही गांव लाया गया है.




गांव के सचिव के मुताबिक परिवार के सदस्यों का मेडिकल परीक्षण किया गया है.




 मड़कम बजारी ने बताया कि सालों पहले सलवा जुडूम के कारण अपने परिवार को छोड़कर गया था. लेकिन कोरोना के कारण आज वापस आना पड़ा. उसने बताया कि अब वो वापस नहीं जाना चाहता, यहीं रहकर अपनों के साथ जीवनयापन करना चाहता है.







ये भी पढ़ें: 




First published: March 30, 2020, 12:46 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading