लाइव टीवी

सुकमा के बालक आश्रम में पढ़ रहे बच्चे की मौत, मलेरिया बताई जा रही वजह
Sukma News in Hindi

News18 Chhattisgarh
Updated: February 25, 2020, 11:47 AM IST
सुकमा के बालक आश्रम में पढ़ रहे बच्चे की मौत, मलेरिया बताई जा रही वजह
पीएम के बाद मौत की असली वजह सामने आ सकती है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

फिलहाल, परिजनों को बच्चे की मौत (Death) की जानकारी दे दी गई है. पोस्टमार्टम के लिए बच्चे का शव दोरनापाल अस्पताल लाया गया है.

  • Share this:
सुकमा. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के सुकमा (Sukma) जिले के बालक आश्रम में पढ़ रहे एक बच्चे की मौत हो गई है. बच्चे की उम्र तकरीबन 7 साल बताई जा रही है. बच्चा दोरनापाल स्थित नगाराम आश्रम में कक्षा दूसरी में पढ़ता था. मिली जानकारी के मुताबिक, बच्चे की मौत मलेरिया (Malaria) की वजह से हुई है. पिछले कुछ दिनों से बच्चा बीमार था. छात्र को इलाज के लिए अस्पताल लाया गया जहां उसके कुछ टेस्ट किया गया. कहा जा रहा है कि टेस्ट में बच्चा को मलेरिया पॉजिटिव (Malaria Positive) पाया गया. बच्चे का इलाज शुरू कर दिया गया था लेकिन मंगलवार सुबह उसने दम तोड़ दिया. फिलहाल, परिजनों को बच्चे की मौत (Death) की जानकारी दे दी गई है. पोस्टमार्टम के लिए बच्चे का शव दोरनापाल अस्पताल लाया गया है.

आश्रम में हुई मौत

मिली जानकारी के मुताबिक दोरनापाल में संचालित नागाराम बालक आश्रम में अध्ययनरत कक्षा 2 का छात्र पिछले कुछ दिनों से बीमार था. बच्चे को एक-दो दिन से बुखार था. इसके बाद सोमवार को अधीक्षक ने उसे इलाज के लिए दोरनापाल अस्पताल लाया. यहां बच्चे का मलेरिया टेस्ट किया गया जो पॉजिटिव निकला. इसके बाद डॉक्टरों ने उसे मलेरिया रोकने की दवा और अधीक्षक उसे वापस आश्रम ले आए. अक्षीक्षक के मुताबिक सोमवार रात में छात्र ने खाना खाया और दवा भी खाई. फिर रात तकरीबन 9 बजे उसने बच्चों के साथ बातचीत भी फिर सोने चला गया.

आश्रम के मुताबिक, मंगलवार सुबह 5 बजे सभी छात्र उठाकर आए लेकिन हड़मा नहीं दिखा. उसकी तलाश में अधीक्षक उसके कमरे में गया और उसे उठाने की कोशिश की. लेकिन वो उठा नहीं. बच्चे की मौत हो गई थी. इसके बाद अधीक्षक ने अपने वरिष्ठ अधिकारियों को इशकी सूचना दी. घटना की जानकारी बच्चे की परिजनों को भी दी गई.



अधिकारी की दलील

न्यूज 18 से बातचीत करते हुए सहायक आयुक्त बद्रीश कुमार सुखदेवे ने बताया कि सोमवार रात को बच्चे के पेट मे दर्द था. उसके बाद डॉक्टर को दिखाया गया था और दवाई भी दी गई थी. लेकिन मंगलवार सुबह उसकी मौत हो गई. पीएम के बाद ही मौत के असल कारण का पता चल पाएगा.

 

ये भी पढ़ें:

महुए की शराब नहीं, अब मजा लीजिए इसके लड्डू का, मिल सकता है ये फायदा 

 

कोरबा में दर्दनाक सड़क हादसा, ट्रक और बोलेरो की टक्कर में तीन की मौत, 2 गंभीर 

रायपुर रेलवे स्टेशन का पार्किंग बना गुंडागर्दी का अड्डा, मारपीट से लेकर छेड़छाड़ तक की

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए सुकमा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 25, 2020, 11:40 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर