बस्तर में भारी बारिश से सुकमा समेत कई जिलों में बाढ़ के हालात, अलर्ट जारी

सुकमा में सबसे ज्यादा खतरनाक हालात कोंटा के हैं, जहां शबरी नदी का जल स्तर 14 मीटर यानि की डेंजर लेवल तक पहुंच गया है.

News18 Chhattisgarh
Updated: August 8, 2019, 1:04 PM IST
News18 Chhattisgarh
Updated: August 8, 2019, 1:04 PM IST
छत्तीसगढ़ के बस्तर संभाग के हर जिले में पिछले 30 घंटे से लगातार बारीश हो रही है. जिसके कारण जिले के नदी-नाले उफान पर है ऐसे में फिर से जिले मे बाढ़ जैसे हालात बन रहे हैं. एक ओर जहां सुकमा जिले के शबरी उफान पर है और झापरा पुल पर पानी आ गया है. जिसके कारण दो दर्जन गांव समेत ओडिशा से संर्पक टूट चूका है. यहां हाल मलगेर में क्षमता से अधिक पानी आ गया है. जिसके कारण पुल के ऊपर से नदी बह रही है. बस्तर, कांकेर, बीजापुर, कोंडागांव, नारायणपुर जिले के कई इलाकों में बाढ़ की स्थिति है.

सुकमा में सबसे ज्यादा खतरनाक हालात कोंटा के हैं, जहां शबरी नदी का जल स्तर 14 मीटर यानि की डेंजर लेवल तक पहुंच गया है. जिला प्रशासन ने अर्लट जारी कर दिया गया है. नदी किनारे स्थित घर के सामान को राहत शिविर में शिफ्ट करने की कवायद बीते बुधवार से की जा रही है. इस तरह सुकमा जिले का संर्पक ओडिशा व तेलंगाना से टूट चुका है. वहीं मौसम विभाग ने आगामी 24 घंटे में भारी बारीश की चेतावनी जारी की है.

बस्तर में बाढ़.


बने ये हालात

बीते बुधवार को दोपहर करीब 2 बजे शबरी नदी पर बना झापरा पुल पुरी तर डूब चुका था. पुल के उपर से पानी बह रहा था. जिसके चलते आवागमन पुरी तरह बाधित हो गया है. पुलिस ने वहां पर स्टापर लगा रखे हैं. ताकि कोई भी रिस्क लेकर नदी पार ना कर सके. हालांकि कुछ देर बारिश रूकने के कारण जल स्तर थोड़ा नीचे गया है. फिर भी अब तक आवागमन शुरू करने जैसी स्थिति नहीं है. झापरा पुल के उपर से पानी आने के कारण दो दर्जन गांवों समेत उड़ीसा से संर्पक पुरी तरह टूट चुका है. पुल पर पानी तीसरी बार आया है.



बरती जा रही है हिदायत
सुकमा कलेक्टर चंदन कुमार ने बताया कि बाढ़ की स्थिति से निपटने के लिए प्रशासन अलर्ट मोड पर है. अलग अलग स्थानों पर राहत कार्य जारी हैं. बाढ़ को देखते हुए लोगों को भी सतर्क रहने की हिदायत दी गई है. सीमावर्ती इलाकों से आवाजाही बाढ़ की स्थिति देखते हुए ही शुरू करने के निर्देश दिए गए हैं. हर स्तर पर सतर्कता बरती जा रही है.

ये भी पढ़ें: भूपेश सरकार ने खत्म की वैट की रियायत, इतने रुपये मंहगा हो गया पेट्रोल-डीजल 

ये भी पढ़ें: छत्तीसगढ़ के मैनपाट इसी साल से शुरू होगी चाय की खेती, सरकार ने की ये तैयारी  
First published: August 8, 2019, 12:26 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...