पति ने कंधे पर उठाकर प्रेग्नेंट बीवी को पहुंचाया एंबुलेंस तक,रास्ते में हुई डिलिवरी

कंधे पर पत्नी को उठाकर एंबुलेंस तक पहुंचाता पति.

फिलहाल महिला को तोंगपाल अस्पताल में भर्ती कराया गया है. महिला और बच्चे की हालत स्थिर बताई जा रही है.

  • Share this:
सुकमा. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के सूकमा (Sukma) जिले में हुए मूसलाधार बारिश की वजह से अंदरूनी इलाकों के नदी-नाले उफान पर है. इस वजह से इलाके में चलने वाले 108, 102 महतारी एक्सप्रेस इन इलाकों तक नहीं पहुंच पा रही है. सोमवार दोपहर तकरीबन 3 बजे 108 एम्बुलेंस को तोंगपाल इलाके में एक डिलीवरी (Delivery) केस की जानकारी मिली. उसके बाद 108 एम्बुलेंस के कर्मचारी मौके के लिए निकल लेकिन इनके पास एक बड़ी समस्या सामने आ गई.

दरअसल, उपलंका गांव नदी के दूसरी तरफ बसा हुआ है. पथरीली पगडंडी रास्ता से होकर उस गांव तक पहुंचा जाता है. ऐसे में चार पहिया वाहन वहां तक नहीं पहुंच सकी. पत्नी की हालत देख पति ने कंधों के सहारे पिपली पारा से 3 किलोमीटर पैदल ही सफर किया और 108 तक पहुंचाया. लेकिन प्रसव पीड़ा (Pain during Pregnancy)होने की वजह से महिला को रास्ते में ही डिलीवरी हो गई. महिला का नाम कोशी बताया जा रहा है. महिला के पति मासा ने कंधे पर उसे एंबुलेंस तक पहुंचाया. फिलहाल महिला को तोंगपाल अस्पताल में भर्ती कराया गया है. महिला और बच्चे की हालत स्थिर बताई जा रही है.

 

शबरी नदी में उफान पर

कुछ दिन पहले सुकमा इलाके में हुई बारिश की वजह से शबरी नदी (Shabri River) उफान पर आ गई थी और झापरा पुल के ऊपर पानी बह गया था. इस वजह से ओडिशा समेत दो दर्जन गांवों का जिला मुख्यालय से संर्पक टूट गया था. इसके अलावा यात्री बस भी इलाके में नहीं चल रहे थे. कई इलाकों में लोग फंस भी गए थे. इस वजह से भी लोगों को काफी परेशानी हुई. कई इलाकों तक एंबुलेंस नहीं पहुंची जिस वजह से मरीजों को परेशानियों का सामना करना पड़ा.

ये भी पढ़ें: 

साल में एक बार सिर्फ एक दिन के लिए खुलती है गुफा, ये मन्नत लेकर आते है दंपति!

फैक्ट्री की मशीन में फंसकर मजदूर की मौत, परिजनों ने किया हंगामा  

अवैध संबंध के चलते प्रेमी के साथ मिलकर महिला ने घोट दिया पति का गला   

 

 

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.