सुकमा: रात के वक्त नक्सलियों ने घर पर हमला कर पुलिस जवान को उतारा मौत के घाट

 नक्सली पहले भी इस तरह के हमलों को अंजाम दे चुके हैं.

नक्सली पहले भी इस तरह के हमलों को अंजाम दे चुके हैं.

Naxal Attack in Chhattisgarh: छत्तीसगढ़ के सुकमा इलाके में नक्सलियों का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है. ताज़ा हमले में मारे गए पुलिस जवान की पत्नी ने बीती रात सोते वक्त हुई इस वारदात के बारे में जानकारी दी.

  • Share this:

सुकमा. छत्तीसगढ़ के सबसे ज़्यादा नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में शुमार सुकमा में एक बार फिर नक्सलियों ने धावा बोलकर एक पुलिस जवान को मौत के घाट उतार दिया. यह घटना किसी मुठभेड़ का हिस्सा नहीं थी, बल्कि सोची--समझी रणनीति के तहत एक पुलिस जवान के घर पर किया गया हमला था. नक्सली पहले भी इस तरह के हमलों को अंजाम देते रहे हैं और यह सिलसिला रुकने का नाम नहीं ले रहा है.

सुकमा के पेंटा गांव में नक्सलियों के हमले में मंगलवार रात मारे जाने के संबंध में एएनआई ने खबर दी. नक्सली वारदात के बारे में मृतक पुलिस जवान की पत्नी ने कहा "रात के वक्त जब हम सो रहे थे, तभी पांच लोग हमारे घर में जबरन घुसे. मेरे पति ने हमले से बचकर भागने की कोशिश की, लेकिन उन लोगों ने उन्हें दबोच लिया. पहले हमलावरों ने ट्रैक्टर की चाबी और फोन मांगकर छीना और फिर मेरे पति को मौत के घाट उतार दिया."

Chhattisgarh News, naxal attack in Chhattisgarh, naxalism in Chhattisgarh, police jawan killed, छत्तीसगढ़ न्यूज़, छत्तीसगढ़ समाचार, छत्तीसगढ़ में नक्सली हमला, छत्तीसगढ़ में नक्सलवाद
मारे गए पुलिस जवान की पत्नी ने सुनाई हमले की दास्तान.

अप्रैल में नक्सली कर चुके हैं बड़ा हमला
गौरतलब है कि अप्रैल के महीने के शुरू में ही सुकमा बीजापुर बॉर्डर (Bijapur Border) के पास नक्सलियों ने एक बड़े हमले को अंजाम दिया था, जिसमें सुरक्षा दस्ते के 22 जवानों के अलावा 9 नक्सली भी मारे गए थे. इस हमले के बाद से ही पुलिस इलाके में नक्सलियों पर दबिश की रणनीति अपना रही है और दूसरी तरफ नक्सली भी मौका देखकर पलटवार करने से नहीं चूक रहे हैं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज