लाइव टीवी

'नक्सलगढ़' में 13 साल से बंद स्कूल में शुरू हुई पढ़ाई, मंत्री ने बांटी किताबें

निलेश त्रिपाठी | News18 Chhattisgarh
Updated: June 24, 2019, 6:57 PM IST
'नक्सलगढ़' में 13 साल से बंद स्कूल में शुरू हुई पढ़ाई, मंत्री ने बांटी किताबें
छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित सुकमा जिले के जगरगुंडा में 13 साल बाद सोमवार को बंद स्कूल को खोला गया.

छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित सुकमा जिले के अतिसंवेदनशील इलाके जगरगुंडा में 13 साल बाद सोमवार को बंद स्कूल को खोला गया.

  • Share this:
छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित सुकमा जिले के अतिसंवेदनशील इलाके जगरगुंडा में 13 साल बाद सोमवार को बंद स्कूल को खोला गया. यहां 13 वर्षों से बंद पड़े हाईस्कूल और हायर सेकेंडरी स्कूल में अब फिर से पढ़ाई शुरू की गई है. पहले दिन बड़ी संख्या में​ छात्र भी पहुंचे. राज्य सरकार में मंत्री कवासी लखमा ने स्कूल भवन का उद्घाटन किया और उसके बाद बच्चों को किताबें व पढ़ाई से जुड़ी अन्य साम​ग्रियां भी बांटी गईं.

हायर सेकेंडरी स्कूल, बालक आश्रमशाला, बालक और कन्या छात्रावास के शुभारम्भ से 24 जून को छत्तीसगढ़ में 'स्कूल चलें हम अभियान' की शुरुआत की गई. इसके तहत ही जगरगुंडा में भी बंद पड़े स्कूल को खोला गया. यहां अब नियमित रूप से कक्षाएं लगाने के निर्देश भी शिक्षकों को दिए गए हैं. साथ ही बच्चों और स्कूल स्टाफ की सुरक्षा के भी बेहतर इंतजाम करने के निर्देश भी दिए गए हैं.

नक्सलियों की दहशत
बता दें कि छत्तीसगढ़ में सुकमा जिले का जगरगुंडा उन इलाकों में शामिल हैं, जहां सबसे ज्यादा नक्सल प्रभाव है. इस इलाके में आमतौर पर लोगों का आना जाना भी नहीं होता है. इसे नक्सलगढ़ भी कहा जाता है. इस इलाके में नक्सलियों ने 13 साल पहले स्कूल भवन को आईईडी ब्लास्ट कर उड़ा दिया था. तब से यहां पढ़ाई बंद थी. अब सरकार ने नए सिरे से भवन बनाकर फिर से यहां पढ़ाई शुरू करवाने की कवायद की है.

ये भी पढ़ें: बीजापुर जिला पंचायत CEO पर पत्रकारों से बदसलूकी का आरोप, छीने कैमरा और मोबाइल फोन! 

ये भी पढ़ें: अब बस्तर में भी चमकी बुखार की दस्तक, तीन बच्चे बीमार 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए सुकमा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 24, 2019, 6:40 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर