लाइव टीवी

NRC और CAA का नक्सलियों ने भी किया विरोध, बस्तर में लगाए पोस्टर

News18 Chhattisgarh
Updated: January 16, 2020, 12:55 PM IST
NRC और CAA का नक्सलियों ने भी किया विरोध, बस्तर में लगाए पोस्टर
देशभर में सीएए और एनआरसी को लेकर विरोध हो रहा है. (फाइल फोटो)

एनआरसी (NRC) और सीएए (CAA) पर देशभर में मचे बवाल के बीच छत्तीसगढ़ नक्सलियों ने भी बैनर और पोस्टर लगाए हैं.

  • Share this:
सुकमा. एनआरसी (NRC) और सीएए (CAA) पर देशभर में मचे बवाल के बीच छत्तीसगढ़ में बिल को लेकर नक्सलियों (Naxalite) ने भी बैनर और पोस्टर लगाए हैं. नक्सलियों ने बस्तर के अलग-अलग जिलों में बैनर-पोस्टर लगाकर एनआरसी और सीएए का विरोध किया है. नक्सलियों द्वारा लगाए गए बैनर में एनआरसी को निरस्त करने और सीएए को वापस लेने की मांग की गई है. नक्सलियों की दंडकारण्य जोनल कमेटी की ओर से बस्तर में अलग-अलग स्थानों पर पोस्टर लगाए गए हैं और पर्चे भी फेंके गए हैं.

नक्सलियों द्वारा सुकमा के अलावा जगदलपुर के अंदरूनी इलाकों, दंतेवाड़ा और अन्य नक्‍सल प्रभावित इलाकों में बैनर और पोस्टर लगाए गए हैं. इसमें एनआरसी और सीएए के अलावा जम्मू और कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्‍छेद 370 को बहाल करने की मांग भी केन्द्र सरकार से की गई है. इतना ही नहीं अयोध्या में बाबरी मज्जिद की जगह पर पुननिर्माण करने की बात भी नक्सलियों ने की है. इन बैनर पोस्टर को लेकर पुलिस ने जांच भी शुरू कर दी है.

Naxalites claim, CRPF attacked Bijapur, Assembly Election. Chhattisgarh News, छत्तीसगढ़ न्यूज, विधानसभा चुनाव, सीआरपीएफ, नक्सली हमला, बीजापुर पुलिस
नक्सलियों ने सीएए का विरोध किया. (File Photo)


नक्‍सली मनाएंगे विरोध सप्ताह

नक्सलियों द्वारा जारी बैनर-पोस्टर में एनआरसी और सीएए को लेकर विरोध सप्ताह मनाने की बात कही गई है. इसके तहत 20 से 26 जनवरी तक विरोध सप्ताह मनाने का पर्चा जारी किया गया है. इतना ही नहीं 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस का विरोध करने की बात कही है.

ये भी पढ़ें: डांट से नाराज किशोरी ने रची अपहरण झूठी कहानी, खुद संग भाई को भी बनाया बंधक

Exclusive: नक्सलियों का दावा- चुनाव में खलल डालने 97 KG बारूद से बीजापुर में CRPF पर किया था हमला! 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए सुकमा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 16, 2020, 11:47 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर