लाइव टीवी

खुलासा: बुलेट प्रूफ जैकेट और टोपी पहनकर सुकमा में नक्सलियों ने किया था जवानों पर हमला
Sukma News in Hindi

News18 Chhattisgarh
Updated: February 20, 2020, 5:33 PM IST
खुलासा: बुलेट प्रूफ जैकेट और टोपी पहनकर सुकमा में नक्सलियों ने किया था जवानों पर हमला
मुठभेड़ को लेकर मीडिया से चर्चा करते सुकमा एएसपी सिद्धार्थ तिवारी.

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में नक्सलियों (Naxalite) तक बुलेट प्रूफ जैकेट और टोपियां भी पहुंच गई हैं. नक्सली (Naxalite) सुरक्षा बलों के जवानों पर हमले में इसका उपयोग भी कर रहे हैं.

  • Share this:
सुकमा. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में नक्सलियों (Naxalite) तक बुलेट प्रूफ जैकेट और टोपियां भी पहुंच गई हैं. नक्सली (Naxalite) सुरक्षा बलों के जवानों पर हमले में इसका उपयोग भी कर रहे हैं. सुकमा (Sukma) में बीते 19 फरवरी को डीआरजी के जवानों से मुठभेड़ के दौरान नक्सलियों ने बुलेट प्रूफ जैकेट व टोपियां पहन रखी थी. मुठभेड़ से लौटने के बाद जवानों ने इसकी जानकारी अफसरों को दी. इतना ही नहीं नक्सलियों ने जवानों पर 600 से ज्यादा यूबीजीएल (UBGL) भी दागे.

सुकमा (Sukma) के एएसपी सिद्धार्थ तिवारी (ASP Siddharth Tiwari) ने मीडिया से चर्चा में बताया कि नक्सली हाईटेक संसाधनों का उपयोग कर रहे हैं. सुकमा के चिंतागुफा थाना क्षेत्र के तोंडामरका इलाके में डीआरजी और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हुई थी. काफी देर चली मुठभेड़ के बाद जब जवान वापस लौट रहे थे तो फिर से नक्सलियों ने उनपर हमला कर दिया. इसका भी जवाब जवानों ने दिया. हमले के दौरान नक्सली बुलेट प्रूफ जैकेट पहने थे. बताया जा रहा है कि ऐसा पहली बार हुआ जब नक्सली हमले में ऐसे जैकेट पहने हों.

Chhattisgarh News
मुठभेड़ के बाद नक्सलियों से बरामद की गई सामग्री.


मारे गए नक्सली की शिनाख्त नहीं



एएसपी सिद्धार्थ तिवारी ने बताया कि मुठभेड़ में एक नक्सली का शव सुरक्षा बल के जवानों ने बरामद किया था. शव के पास से हथियार भी बरामद किए गए थे. मारे गए नक्सली की अब तक शिनाख्त नहीं हो सकी है. बता दें कि सुकमा में 19 फरवरी को लगातार दूसरे दिन नक्सलियों से मुठभेड़ हुई थी. इससे पहले 18 फरवरी को किस्टाराम क्षेत्र के जंगलों में सीआरपीएफ की कोबरा बटालियन के साथ नक्सलियों की मुठभेड़ हुई थी, इसमें एक जवान शहीद हो गया था.

चला रहे ऑपरेशन प्रहार
छत्तीसगढ़ डीजीपी डीएम अवस्थी ने बताया कि नक्सलियों के खिलाफ सुरक्षा बल के जवान ऑपरेशन प्रहार चला रहे हैं. इसके तहत लगातार उनपर दबाव बनाया जा रहा है. इसके लिए सुरक्षा बलों की अलग अलग टीम बस्तर के विभिन्न जिलों में रणनीति बनाकर कार्रवाई कर रही है. इससे बौखलाए नक्सली सुरक्षा बलों को नु​कसान पहुंचाने के लिए साजिश रचते रहते हैं.

ये भी पढ़ें:
किशोरी का अपहरण कर युवती ने किया रेप, रायपुर फास्ट ट्रैक कोर्ट ने दी 10 साल कैद की सजा

MLA को बर्थडे गिफ्ट में समर्थकों ने दी 500 किताबें, 10 हजार कॉपियां, संशय- इसका करें क्या?

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए सुकमा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 20, 2020, 5:33 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर