अमित जोगी ने कार्यकर्ताओं के साथ घेरा कलेक्‍टर कार्यालय, पुलिस से झड़प

सूरजपुर में छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस (जोगी) के कार्यकर्ताओं ने विभिन्‍न मांगों को लेकर अमित जोगी की अगुवाई में कलेक्टर कार्यालय का घेराव किया.

Varun Rai | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: September 12, 2017, 1:16 AM IST
अमित जोगी ने कार्यकर्ताओं के साथ घेरा कलेक्‍टर कार्यालय, पुलिस से झड़प
कलेक्‍टर कार्यालय की ओर बढ़ते कार्यकर्ता और उन्‍हें रोकती पुलिस.
Varun Rai | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: September 12, 2017, 1:16 AM IST
सूरजपुर में छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस (जोगी) के कार्यकर्ताओं ने विभिन्‍न मांगों को लेकर अमित जोगी की अगुवाई में कलेक्टर कार्यालय का घेराव किया. इस दौरान कार्यकर्ताओं की पुलिस के साथ झड़प भी हुई.

अमित जोगी ने सोमवार को सूरजपुर पहुंच कर एक जनसभा को संबोधित किया. इसके बाद रिहंद नदी की रेत को उत्‍तर प्रदेश में ले जाकर बेचने की जांच सहित सूरजपुर जिले की विभिन्‍न मांगों को लेकर कलेक्टर कार्यालय का घेराव करने और कलेक्‍टर को ज्ञापन देने के लिए हजारों कार्यकर्ता के साथ कूच किया.

आंदोलन के मद्देनजर पुलिस प्रशासन भी मुस्तैद था, लिहाजा कलेक्‍टर कार्यालय को पुलिस ने छावनी में तब्दील कर दिया था. इधर छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस (जोगी) के कार्यकताओं को रोकने के लिए दो बेरिकेड्स बनाए गए थे. इनमें से एक को कार्यकर्ता तोड़ने में सफल हुए लेकिन दूसरे गेट को तोड़ने में सफल नहीं हुए और गेट तक नहीं पहुंच पाए. आंदोलन के दौरान अमित जोगी सहित पार्टी के 1824 कार्यकर्ताओं ने गिरफ्तारी दी. पुलिस ने इन्हें रेस्ट हाउस को अस्थायी जेल बनाकर उसमें रखा. बाद में तहसीलदार ने जमानत पर रिहा कर दिया.

बाद में अमित जोगी ने मीडिया से बात करते हुए पुलिस पर बर्बरता का आरोप लगाया और पुलिस तथा प्रशासन के रवैये की निंदा की. जोगी ने प्रदेश के गृहमंत्री रामसेवक पैकरा पर रिहंद नदी की रेत उत्तर प्रदेश ले जाकर बेचने का आरोप लगाया और जांच की मांग की.
First published: September 12, 2017, 1:16 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...