हाथ नहीं देते साथ, पैरों के सहारे लिखता है चंद्रभान

छत्‍तीसगढ़ में सूरजपुर जिले के लांची गांव का रहने वाला छात्र चंद्रभान अपने पैरों की अंगुली से कॉपी पर लिखने का प्रयास करता है. उसके दोनों हाथ और काफी हद तक पैर भी लकवाग्रस्त हैं.

Varun Rai | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: September 7, 2017, 11:38 PM IST
हाथ नहीं देते साथ, पैरों के सहारे लिखता है चंद्रभान
पैर से लिखता छात्र चंद्रभान.
Varun Rai | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: September 7, 2017, 11:38 PM IST
छत्‍तीसगढ़ में सूरजपुर जिले के लांची गांव का रहने वाला छात्र चंद्रभान अपने पैरों की अंगुली से कॉपी पर लिखने का प्रयास करता है. उसके दोनों हाथ और काफी हद तक पैर भी लकवाग्रस्त हैं. उसकी मानसिक स्थिति भी बहुत अच्छी नहीं है, लेकिन उसमें पढ़ाई करने की ललक है.

पहले तो चंद्रभान की स्थिति देखकर स्कूल में दाखिला नहीं दिया गया, लेकिन बार-बार चंद्रभान बैग लेकर गांव के ही प्राथमिक स्कूल पहुंच जाता था. बाद में शिक्षकों ने उसे स्कूल में बैठने की इजाजत दे दी.

चंद्रभान की पढ़ाई की प्रति लगन देख कर स्कूल में सभी इसकी बहुत इज्जत करते हैं. जहां शिक्षक चंदभान पर विशेष ध्यान देते हैं, वहीँ स्कूल के अन्य छात्र भी उसका भरपूर सहयोग करते हैं.

शिक्षकों के अनुसार चंद्रभान शारीरिक और मानसिक रूप से काफी कमजोर है. यदि इसका दाखिला ऐसे बच्‍चों के लिए बने किसी अच्छे स्कूल में करा दिया जाए तो उसे एक अच्छा प्लेटफॉर्म मिल जाएगा.

वहीँ चंद्रभान की पढ़ने की ललक देखकर स्थानीय लोग भी उसकी मदद को आगे आ रहे हैं. चंद्रभान की शारीरिक स्थिति को देखते हुए जिला पंचायत के सभापति पंकज तिवारी ने उसे इलेक्ट्रॉनिक ट्राइसिकल देने और उसकी पढ़ाई का पूरा खर्च वहन करने का आश्वासन दिया है. साथ ही कलेक्टर और जिला पंचायत सीईओ से मिलकर उसे किसी अच्छे स्कूल में दाखिला दिलाने की भी पहल करने की बात कही है.
First published: September 7, 2017, 11:38 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...