सूरजपुर: 4 सूत्री मांग को लेकर अनिश्चितकालीन हड़ताल पर संविदा कर्मचारी

संविदा कर्मचारियों ने यह मांग की है कि उन्हें नियमित करने के साथ साथ उनको भी समान काम और सामान वेतन के हिसाब से वेतन दिया जाए.

Varun Rai | News18 Chhattisgarh
Updated: July 17, 2018, 1:10 PM IST
सूरजपुर: 4 सूत्री मांग को लेकर अनिश्चितकालीन हड़ताल पर संविदा कर्मचारी
4 सूत्री मांग को लेकर अनिश्चितकालीन हड़ताल पर संविदा कर्मचारी
Varun Rai | News18 Chhattisgarh
Updated: July 17, 2018, 1:10 PM IST
छत्तीसगढ़ में संविदा कर्मचारी संघ अपनी 4 सूत्री मांग को लेकर बीते सोमवार से हड़ताल पर चले गए हैं. दरअसल, संविदा कर्मचारियों ने यह मांग की है कि उन्हें नियमित करने के साथ साथ उनको भी समान काम और सामान वेतन के हिसाब से वेतन दिया जाए. इसी के साथ टीएडीए मिलने समेत अपनी विभिन्न 4 सूत्री मांग को लेकर संविदा कर्मचारी संघ बीते सोमवार से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले गए हैं.

यही वजह है कि सरगुजा जिले समेत पूरे प्रदेश में कई सरकारी कार्यालयों का काम प्रभावित हो रहा है. वहीं शासन की ओर से अब तक इस मामले पर कोई भी प्रतिक्रया नहीं आई है, लेकिन लगातार हड़तालों को देखकर आसानी से यह अंदाजा लगाया जा सकता है कि चुनाव के नजदीक आते ही सभी वर्गों के लोग अपनी मांगों को लेकर धरना प्रदर्शन और हड़ताल का रुख कर रहे हैं.

मामले में सूरजपुर जिले के संविदा कर्मचारी संघ के जिला अध्यक्ष एम. रहमान का कहना है कि वे सभी सरकारी विभाग के अनियमित कर्मचारियों को नियमित करने समेत अपनी 4 सूत्री मांग को लेकर हड़ताल पर हैं.

संविदा कर्मचारियों का कहना है कि अगर सरकार उनकी मांगें नहीं मानती है तो आने वाले दिनों में वे उग्र आन्दोलन करेंगे. इतना ही नहीं मांगें पूरी न होने पर कर्मचारियों ने आगामी 19 जुलाई से 22 जुलाई तक संभागीय स्तर पर आन्दोलन और 23 जुलाई से राज्य स्तर पर उग्र आन्दोलन करने की चेतावनी दी है. मालूम हो कि राज्य में 1 लाख 25 हजार से भी ज्यादा कर्मचारी हैं, जो अपनी 4 सूत्री मांगों को लेकर आन्दोलन कर रहे हैं.
First published: July 17, 2018, 1:10 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...