गृहमंत्री के भतीजे शमोध पैकरा पर युवती ने लगाया शादी का झांसा देकर यौन शोषण का आरोप

छत्तीसगढ़ के गृहमंत्री रामसेवक पैकरा के भतीजे पर एक युवती ने दैहिक शोषन का आरोप लगाया है. गृहमंत्री के सगे भतीजे पर एक युवती द्वारा शादी का झांसा देकर यौन शोषण का आरोप लगाया है.

varun | News18 Chhattisgarh
Updated: July 9, 2018, 8:55 AM IST
गृहमंत्री के भतीजे शमोध पैकरा पर युवती ने लगाया शादी का झांसा देकर यौन शोषण का आरोप
पीड़िता का आरोप: गृहमंत्री के भतीजे ने उसका यौन शोषण किया है
varun | News18 Chhattisgarh
Updated: July 9, 2018, 8:55 AM IST
छत्तीसगढ़ के गृहमंत्री रामसेवक पैकरा के भतीजे पर एक युवती ने दैहिक शोषन का आरोप लगाया है. गृहमंत्री के सगे भतीजे पर एक युवती द्वारा शादी का झांसा देकर यौन शोषण का आरोप लगाया है. पीड़िता का यह भी आरोप है कि उसे एफआईआर दर्ज कराने के लिए कई महीनों तक भटकना पड़ा है. आईजी के निर्देश के बाद सूरजपुर पुलिस ने एफआईआर तो दर्ज कर लिया है लेकिन अभी तक आरोपी की गिरफ्तारी नहीं की गई है. पुलिस के अनुसार वह इस मामले की तहकीकात में लगी हुई है.

गोद में दुधमुंहा बच्चा लिए भटक रही पीड़िता बच्चे के बाप से इंसाफ मांग रही है. यह युवती भटगांव थाना क्षेत्र के बुंदिया गांव की निवासी है. इस युवती का आरोप है कि सन 2014 में वह प्रदेश के गृह मंत्री रामसेवक पैकरा के गांव चेंद्रा के हाई स्कूल में पढ़ रही थी तभी गृह मंत्री के भतीजे शमोध पैकरा से प्रेम हो गया था. वह तब नाबालिग थी.

पीड़िता के अनुसार, आरोपी शमोध पैकरा ने शादी का झांसा देकर पीड़ित से शारीरिक सम्बन्ध स्थापित किए. पीड़ित जब भी गर्भवती हुई तब आरोपी ने गर्भपात करवा दिया. आखिरकार पीड़िता ने एक बच्ची को जन्म दिया है. बच्चे के जन्म के बाद भी आरोपी पीड़िता को शादी का आश्वासन देता रहा और कई दिनों तक अपने और अपने रिश्तेदारों के घर पर पीड़िता को रखा.

पीड़िता ने बताया कि पिछले साल के अप्रेल महीने में आरोपी के पिता की सड़क दुर्घटना में मृत्यु के बाद आरोपी शमोध पैकरा की एसईसीएल कंपनी में नौकरी लग गई. नौकरी लगने के बाद आरोपी ने पीड़िता से मुझसे शादी से इनकार कर दिया.

पीड़िता ने इसकी शिकायत चेंद्रा पुलिस चौकी में की. पीड़ित के परिजनों का आरोप है कि शिकायत के बाद पुलिस ने जबरन पीड़ित से समझौता करा लिया था. कुछ महीने पहले आरोपी शमोध पैकरा ने शादी कर ली, जिसके बाद पीड़ित अपने परिजनों के साथ स्थानीय पुलिस चौकी से लेकर एसपी तक से गुहार लगाईं लेकिन कहीं पर भी उसकी शिकायत दर्ज नहीं की गई.

पीड़िता की मां के अनुसार आईजी सरगुजा की पहल पर सूरजपुर पुलिस ने आरोपी शमोध पैकरा के खिलाफ आईपीसी की धारा 376 का मामला दर्ज कर लिया. हालांकि सूरजपुर पुलिस एफआईआर दर्ज करने में देरी को अपनी गलती मानने की बजाय इसे एक प्रकिया बता रही है. हालांकि एफआईआर दर्ज होने के बावजूद अभी तक आरोपी की गिरफ्तारी नहीं की गई है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए सूरजपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 9, 2018, 8:55 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...