सूरजपुर के चांदनी बिरहापुर में मलेरिया बना महामारी, 14 लोगों की मौत

छत्‍तीसगढ़ में सूरजपुर जिले के कोल्हुआ गांव में मलेरिया से तीन साल की एक बच्ची आरती बैस की मौत से जिला प्रशासन में फिर से हड़कंप मच गया है. आरती बैस का कोल्हुआ कैंप में इलाज चल रहा था.

Varun Rai | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: August 7, 2017, 8:42 PM IST
सूरजपुर के चांदनी बिरहापुर में मलेरिया बना महामारी, 14 लोगों की मौत
शिविर में मलेरिया पीड़ि‍तों का उपचार.
Varun Rai | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: August 7, 2017, 8:42 PM IST
छत्‍तीसगढ़ में सूरजपुर जिले के कोल्हुआ गांव में मलेरिया से तीन साल की एक बच्ची आरती बैस की मौत से जिला प्रशासन में फिर से हड़कंप मच गया है. आरती बैस का कोल्हुआ कैंप में इलाज चल रहा था. रविवार देर रात तबीयत खराब होने से परिजन उसे मध्यप्रदेश ले जाने की तैयारी कर रहे थे कि इस बीच उसकी मौत हो गई.

दरअसल सूरजपुर जिले के सुदूर अंचल चांदनी बिहारपुर में लगभग सात गांवों में पिछले 15 दिनों से मलेरिया एक महामारी की तरह पसरा हुआ है. यहां अब तक 14 लोगों की मलेरिया की चपेट में आने से जान चली गई है. मरने वालों में दस बच्चे शामिल हैं. वहीं जांच में लगभग 11 सौ ग्रामीणों में मलेरिया पॉजिटि‍व पाया गया है.

प्रशासन और चिकित्सा विभाग की पूरी टीम पिछले दस दिनों से बिहारपुर के कोल्हुआ गांव में बेस कैंप लगाकर ग्रामीणों के इलाज में जुटी हुई है. स्वास्थ्य विभाग की टीम कोल्हुआ गांव समेत आसपास के गांव के हर घर में जाकर ग्रामीणों का स्वास्थ्य परीक्षण कर रही है. इसके साथ ही उन्हें मच्छरदानी और दवा का वितरण भी किया जा रहा है. इसके बावजूद मलेरिया से मौत का सिलसिला थमने का नाम ही नहीं ले रहा है. अब रविवार रात इस बच्‍ची की मौत हो गई.
First published: August 7, 2017, 8:42 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...