अपनी ही जमीन को बेचने के लिए पटवारी के चक्कर काट रही ये महिला

छत्तीसगढ़ के सूरजपुर जिले में प्रशासनिक व्यवस्था का बुरा हाल है. ताजा मामला जिले की बरौधी गांव का है, जहां 75 वर्षीय वृद्धा अपने पति की मौत के बाद पिछले तीन सालो से जमीन की बिक्री के लिए पटवारी और तहसील कार्यालय के चक्कर काट रही है.

Varun Rai | News18 Chhattisgarh
Updated: February 22, 2019, 6:22 PM IST
Varun Rai | News18 Chhattisgarh
Updated: February 22, 2019, 6:22 PM IST
छत्तीसगढ़ के सूरजपुर जिले में प्रशासनिक व्यवस्था का बुरा हाल है. ताजा मामला जिले की बरौधी गांव का है, जहां 75 वर्षीय वृद्धा अपने पति की मौत के बाद पिछले तीन सालो से जमीन की बिक्री के लिए पटवारी और तहसील कार्यालय के चक्कर काट रही है. दरअसल शारिरिक रूप से अस्वस्थ्य मनियारो के पति की तीन साल पूर्व मौत हो चुकी है. जिसके बाद उसका कोई वारिस न होने के कारण अपने भतीजे के यहां ही रह रही है.

इलाज के लिए पैसो के अभाव में कोटेया गांव में पति की जमीन को बेचने के लिए स्थानिय पटवारी के पास महिला ने गुहार लगाई, जिसके बाद से आज तक जमीन का बीक्री नहीं हो सकी और आर्थिक तंगी के कारण महिला बीमार पड़ी हुई है. बुजुर्ग महिला मनियारो के भतीजे संतोष ने पटवारी पर आरोप लगाया है. संतोष का आरोप है कि जमीन के नामांतरण के लिए तीन साल तक पटवारी के चक्कर काटने के बाद पैसे लेकर नामांतरण तो कर दिया गया, लेकिन बिक्री के लिए दस्तावेज बनाने के लिए और पैसों की मांग कर परेशान किया जा रहा है. साथ ही वृद्ध महिला को तहसील कार्यालय बुलाकर वापस भेज दिया जाता है.



मामले में सूरजपुर भैयाथान के एसडीएम ज्योति सिंह ने शिकायत के बाद पटवारी को नोटिस जारी कर दिया है. साथ ही मामले में उचित कार्रवाई की बात कही. ज्योति सिंह ने कहा कि यदि कोई जानबूझकर, अपने निजी हित के लिए महिला को परेशान कर रहा होगा तो उसपर कार्रवाई की जाएगी.
ये भी पढ़ें: 42 घंटे तक नक्सलियों पर किया 'प्रहार', कैंप ध्वस्त, घायल होने के बाद हथियार छोड़ भागे नक्सली

ये भी पढ़ें: नक्सलियों पर 1500 जवानों का 'प्रहार', सुकमा में सुबह से चल रही मुठभेड़ 
ये भी देखें - VIDEO: नक्सलियों के गढ़ में शहीदों को श्रद्धांजलि देने निकाला गया कैंडल मार्च 
एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...