बगैर शौचालय बने ही ओडीएफ घोषित हो गया गांव!

Amitesh Pandey | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: August 12, 2017, 4:33 PM IST
बगैर शौचालय बने ही ओडीएफ घोषित हो गया गांव!
गांव में ऐसे कई मकान हैं, जिनमें शौचायल नहीं बने हैं.
Amitesh Pandey | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: August 12, 2017, 4:33 PM IST
छत्‍तीसगढ़ में अंबिकापुर जनपद पंचायत क्षेत्र के ग्राम सोनपुर कला में बिना शौचालय निर्माण के ही गांव को खुले में शौच से मुक्‍त (ओडीएफ) घोषित करने का मामला सामने आया है.

यहां कागजों में शौचालय बनाकर गांव को ओडीएफ का तमगा दे दिया गया है. इतना ही नहीं, जिस हितग्राही का गांव में न तो मकान है और न ही कोई जमीन, उसके नाम पर भी शौचालय बन चुका है. कई लोगों का तो कागजों पर और सरकारी वेबसाइट पर शौचालय बना दिया गया है, जबकि उस हितग्राही को आज तक शौचालय की राशि नहीं मिली.

सरकारी दावा है कि सरगुजा जिले के सोनपुरकला गांव के हर घर में शौचालय बन चुका है और गांव को खुले में शौचमुक्त घोषित भी कर दिया गया है, पर जब न्‍यूज़18/ईटीवी की टीम जब इस गांव में पहुची तो ग्रामीण खुद बताने लगे कि उनके यहां न तो शौचालय बना है और न ही इंदिरा आवास, लेकिन सरकारी वेबसाइट के हिसाब से इन लोगों के यहां शौचालय बन चुका है और राशि भी निकल चुकी है.

हद तो तब हो गई, जब गांव में किराए के मकान में रहने वाली महिला ने बताया कि उसके पास गांव में न तो जमीन है और न ही उसका खुद का मकान, लेकिन उसके नाम का शौचालय किराए के मकान में बना दिया गया है. गांव में कई ऐसे लोग भी हैं, जिनके यहां शौचालय जमीन तो नहीं, लेकिन कागजो में बन चुका है. गांव में जो शौचालय बनाए गए हैं, वो भी आधे-अधूरे हैं, लेकिन गांव खुले में शौचमुक्त हो चुका है.

वही फर्जी तरीके से गांव को ओडीएफ घोषित करने की कहानी जब जनपद पंचायत के सीईओ को बताई गई तो उन्‍होंने कहा कि वे गांव में जाकर जांच करेंगे.
First published: August 12, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर