आबुझमाड़ में नक्सलियों ने ग्रामीणों को गांव से खदेड़ा

नारायणपुर जिले के अबुझमाड़ में एकबार फिर माओवादियो ने तांडव मचाया है. पिछले दिनों ही माओवादियो ने 4 ग्रामीणों को पुलिस का मुखबीर बताकर मौत के घाट उतार दिया था. इस बार कई ग्रामीणों को नक्सलियों ने गांव से खदेड़ दिया है.

नारायणपुर जिले के अबुझमाड़ में एकबार फिर माओवादियो ने तांडव मचाया है. पिछले दिनों ही माओवादियो ने 4 ग्रामीणों को पुलिस का मुखबीर बताकर मौत के घाट उतार दिया था. इस बार कई ग्रामीणों को नक्सलियों ने गांव से खदेड़ दिया है.

नारायणपुर जिले के अबुझमाड़ में एकबार फिर माओवादियो ने तांडव मचाया है. पिछले दिनों ही माओवादियो ने 4 ग्रामीणों को पुलिस का मुखबीर बताकर मौत के घाट उतार दिया था. इस बार कई ग्रामीणों को नक्सलियों ने गांव से खदेड़ दिया है.

  • Pradesh18
  • Last Updated: March 14, 2016, 12:08 AM IST
  • Share this:
नारायणपुर जिले के अबुझमाड़ में एकबार फिर माओवादियो ने तांडव मचाया है. पिछले दिनों ही माओवादियो ने 4 ग्रामीणों को पुलिस का मुखबीर बताकर मौत के घाट उतार दिया था. इस बार कई ग्रामीणों को नक्सलियों ने गांव से खदेड़ दिया है. पिछले 1 महीने ये पीड़ित भटक रहे हैं. जिसकी शिकायत ग्रामीणों ने पुलिस से की है.

इन ग्रामीणों ने पुलिस ने बताया है कि नक्सलियों ने पुलिस को मदद करने के आरोप में यह सजा दी है. माओवादियों ने इन ग्रामीणों को जमीन और

मवेशियों पर भी कब्जा कर लिया है.

ये सभी ग्रामीण कुतुल, परपा, मढोनार, छिनारी, बाला और ओरछापार के रहने वाले हैं. इन सभी के परिजनों ने पुलिस से शिकायत की है साथ ही मदद मांगी है. इन लोगों को कहना है कि नक्सलियों ने स्कूली बच्चों को भी नहीं बख्शा है इनको भी पुलिस का मददगार बताया है. पुलिस अधीक्षक ने मीडीया से बात करते हुए बताया कि माओवादी पुलिस की अबुझमाड़ में दखल से बौखलाए हुए हैं और ग्रामीणों पर जबरन झूठा आरोप लगातार गांव से भगा रहे हैं. पुलिस कप्तान ने कहा कि ग्रामीणों की हर तरह से मदद की जाएगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज