पुलिस की गोली की शिकार हुई महिला नक्‍सली

नारायणपुर के कस्तुरमेटा में गुरुवार को पुलिस और माओवादियों के बीच हुई मुठभेड़ में एक महिला वर्दीधारी माओवादी मारी गई. इसकी शिनाख्‍त रौशनी के रूप में हुई है.

नारायणपुर के कस्तुरमेटा में गुरुवार को पुलिस और माओवादियों के बीच हुई मुठभेड़ में एक महिला वर्दीधारी माओवादी मारी गई. इसकी शिनाख्‍त रौशनी के रूप में हुई है.

नारायणपुर के कस्तुरमेटा में गुरुवार को पुलिस और माओवादियों के बीच हुई मुठभेड़ में एक महिला वर्दीधारी माओवादी मारी गई. इसकी शिनाख्‍त रौशनी के रूप में हुई है.

  • Share this:
नारायणपुर के कस्तुरमेटा में गुरुवार को पुलिस और माओवादियों के बीच हुई मुठभेड़ में एक महिला वर्दीधारी माओवादी मारी गई. इसकी शिनाख्‍त रौशनी के रूप में हुई है.



बताया जा रहा है कि मारी गई माओवादी पीएलजीए की कंपनी नंबर-1 की सक्रिय सदस्य थी. उसके पास से पुलिस ने एक नग 'थ्री-नाट थ्री' रायफल, 49 नग जिंदा कारतुस और एक नग वाकी-टाकी बरामद किया है. हालांकि मारी गई माओवादी कहां की रहने वाली थी इसका पता नहीं चल पाया है.



बस्तर आईजी एसआरपी कल्लूरी ने बताया कि मृत महिला नक्सली बाहर की बतायी जा रही है. बरामद रायफल के बट के ऊपर पीएलजीए लिखा एवं स्टार का निशान है. मृत महिला पीपुल्स पार्टी की सदस्‍य हो सकती है, जिस पर आठ लाख का ईनाम घोषित था. यह कोई बाहरी माओवादी कैडर की प्रतीत हो रही है, जिसकी शिनाख्त करने के प्रयास जारी हैं.





मुठभेड़ स्थल पर मौजूद परिस्थितिजन्य साक्ष्य, खून के धब्बे एवं घसीटे जाने के निशान से यह साबित होता है कि कम से कम 3-4 नक्सली मारे गए हैं और कई लहुलूहान हुए हैं, साथियों के शव नक्सली अपने साथ ले जाने में कामयाब रहे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज