• Home
  • »
  • News
  • »
  • chhattisgarh
  • »
  • कोरिया में हाईटेंशन लाइन की चपेट में आने से महिला की दर्दनाक मौत

कोरिया में हाईटेंशन लाइन की चपेट में आने से महिला की दर्दनाक मौत

अक्टूबर माह में बिजली की मांग में 12 साल की सबसे बड़ी गिरावट

अक्टूबर माह में बिजली की मांग में 12 साल की सबसे बड़ी गिरावट

लोगों का आरोप था कि यह दुर्घटना विद्युत विभाग (chhattisgarh electricity board) की लापरवाही की वजह से घटी है,.

  • Share this:
कोरिया. कोरिया जिला (korea district headquarter) मुख्यालय बैंकुठपुर में शुक्रवार को एक महिला की हाईटेंशन तार की चपेट में आने से मौत हो गई. इसके बाद महिला की मौत (death due to electrolucation) के बाद आक्रोशित लोगों ने सड़क पर टायर जलाकर चक्काजाम कर दिया. लोगों का आरोप था कि यह दुर्घटना विद्युत विभाग (chhattisgarh electricity board) की लापरवाही की वजह से घटी है,.

पुलिस और प्रशासन की समझाईश मे लोगो का गुस्सा शांत हुआ. लेकिन इस बड़ी घटना के बाद विद्युत विभाग की बडी अनदेखी उजागर हुई है. बैकुंठपुर के महलपारा इलाके के डबरीपारा बस्ती मे इस दर्दनाक हादसे मे एक महिला ने दम तोड दिया. दरअसल महिला अपने घर के छत पर पानी की टंकी देखने गई हुई थी. इसी दौरान वो छत के ऊपर से गुजरने वाले 11 केवी केबल के चपेट मे आकर झुलस गई.

इधर महिला की झटपटाहट की आवाज सुनकर घर वालो ने उसे अस्पताल पहुंचाया. लेकिन तब तक महिला ने दम तोड दिया था. इस घटना बाद आक्रोशित लोगो ने विद्युत विभाग के खिलाफ जमकर नारेबाजी और सड़क पर टायर जलाकर चक्का जाम कर दिया.

बैकुंठपुर के डबरीपारा इलाके की इस दर्दनाक हादसे और उसके बाद बरपे हंगामे की वजह से बैकुंठपुर-खड़गवां और चिरिमिरी जाने वाला मुख्य मार्ग लगभग 2 घण्टे तक बाधित रहा. इधर लोगो को हंगामे की खबर पर प्रशासनिक टीम के साथ विद्दुत विभाग के अधिकारी और सिटी कोतवाली पुलिस तत्काल मौके पर पहुँची.

प्रशासन की ओर से पीड़ित परिवार को 20 हजार की तत्कालिक सहायता राशि दी और 4 लाख रुपये मुआवजा देने की घोषणा की गई. इसके साथ ही मौके पर पहुंचे एसडीएम ने बस्ती के ऊपर से गुजरने वाले हाईटेंशन तार की तत्काल शिफ्टिंग के लिए सीएसईबी के अधिकारियो को निर्देश दिए. जिसके बाद लोगो का नाराजगी शांत हुई.

कोरिया जिले की बदहाल विद्युत व्यवस्था किसी से छिपी नहीं है. इसी का परिणाम है कि आज एक महिला को विद्युत विभाग की अनदेखी के कारण दम तोडना पडा. बहरहाल मुआवजा और सहायता राशि देकर प्रशासन ने हल्ला तो शांत करा लिया. लेकिन देखना है कि बस्ती के ऊपर से गुजरी हाईटेंशन लाईन हटवाने मे प्रशासन को कितना समय लगता है.

यह भी पढ़ें:

देर रात एक और गोलीकांड से दहला रायपुर, व्यापारी की मौत

नक्सलियों को नहीं मिल रहा नेता, तेलुगु भाषी चाहते हैं बस्तर पर कब्जा

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज