• Home
  • »
  • News
  • »
  • city-khabrain
  • »
  • दो हजार के खजूर के पेड़ की कीमत चुकाई 32 हजार

दो हजार के खजूर के पेड़ की कीमत चुकाई 32 हजार

बादलपुर में डॉ भीमराव अम्बेडकर पार्क में लगे साइकस की कीमत लगाई गई 32 हजार रुपये। वहीं, फाइकस की कीमत 230 रुपये है जबिक अथॉरिटी ने दिए 3500 रुपये।

  • Share this:
    नई दिल्ली। दिल्ली से सटे ग्रेटर नोएडा में हरियाली और सौंदर्यीकरण के नाम पर हर साल करोड़ों का बजट बनता है लेकिन यहां लगाए जा रहे पेड़ों के नाम पर आम जनता की जेब काटी जा रही है। जो खजूर के पेड़ खेतों के किनारे यूं ही उग आते हैं, ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी ने उसके एक पेड़ की कीमत 32 हजार रुपये चुकाई है। अथॉरिटी ने नर्सरी से पेड़ों के रेट लेकर जो लिस्ट तैयार की, उसके मुताबिक खजूर के एक पेड़ की कीमत 1950 रुपये है यानी अथॉरिटी ने 16 गुना ज्यादा कीमत चुकाई।

    आईबीएन7 के पास मौजूद दस्तावेजों के मुताबिक पिछले कुछ महीनों में ही अथॉरिटी को लाखों का चूना लगाया गया है। एक हजार रुपये कीमत वाले फिशटैल पाम के लिए अथॉरिटी ने 4000 रुपये दिए। साइकस की कीमत करीब डेढ़ हजार (1500) रुपये है जबकि बादलपुर में डॉ भीमराव अम्बेडकर पार्क में लगे साइकस की कीमत लगाई गई 32 हजार रुपये। वहीं, फाइकस की कीमत 230 रुपये है जबिक अथॉरिटी ने दिए 3500 रुपये। 4 फीट बोटल पाम की कीमत 2650 रुपये दी गई जो कि 14 फीट बोटल पाम की कीमत के बराबर है यानी यहां भी तीन गुना से भी ज्यादा कीमत अदा की गई।

    करोड़ों के खर्च के बावजूद इनमें से ज्यादातर पेड़ सूख चुके हैं। मामला सामने आने के बाद अथॉरिटी के अधिकारी जांच की बात कह रहे हैं। सवाल ये है कि इस मामले में ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी में तीन बार शिकायत की जा चुकी है बावजूद इसके अब तक अधिकारियों ने कोई कार्रवाई क्यों नहीं की।

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन